अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी Amit Chaudhary Alias Madhav Chaudhary

सीतामढ़ी और आसपास के क्षेत्रों में अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी चर्चित और लोकप्रिय राजनेता हैं। वर्ष 2015 के बिहार विधानसभा आम निर्वाचन में सीतामढ़ी के सुरसण्ड विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में लड़े और दूसरे स्थान पर रहे। अपनी समाजसेवा की भावना को मूर्त्त रूप देने के लिए अमित चौधरी ने ‘विश्व मानव जागरण मंच’ की स्थापना की। इस मंच के बैनर तले वह समाज के पिछड़े और शैक्षणिक रूप से कमजोर लोग को उन के सामाजिक, रानीतिक और संवैधानिक अधिकार के प्रति जागरूक करते हैं। इसी तरह गरीब बच्चों के लिए उचित शिक्षा की व्यवस्था कराना, बीमार व्यक्तियों को चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराना और बाढ़ सहित अन्य आपदाओं में पीड़ितों की सेवा करना इन की नियति है। साम्प्रदायिक सौहार्द की भावना जन-जन में जगानेवाले अमित चौधरी अपनी नेकदिली के कारण काफ़ी लोकप्रिय हैं।

 

 

अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी Amit Chaudhary Alias Madhav Chaudhary

अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी द्वारा जनहित में किये गये कार्य




शुक्रवार, 8 मार्च, 2019

बच्चों का हौसला बढ़ाते माधव

सीतामढ़ी। जब भी मौका मिलता है बच्चों के बीच जाकर उनका हौसला बढ़ाना अच्छा लगता है। ये बातें सीतामढ़ी के जननेता माधव चौधरी ने दलकावा और नेपाल के बीच आयोजित डे-नाईट क्रिकेट मैच का उद्घाटन करते हुए कही। सोनबरसा प्रखंड के इंदरवा पंचायत के दलकावा गाँव के क्रिकेट ग्राउंड पर यह मैच आयोजित किया गया। ज़िले में जहां कहीं भी क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन होता है और जननेता माधव चौधरी को बुलाया जाता है, वे न केवल वहां जाते हैं, बल्कि वे वहां मौजूद खिलाड़ियों और युवाओं से बातचीत कर उनकी समस्या भी जानने की कोशिश करते हैं। श्री चौधरी ने युवाओं से बातचीत करते हुए कहा कि किसी भी क्षेत्र में मंजिल पाने के लिए जुनून और कड़ी मेहनत का होना बेहद आवश्यक होता है। हर खेल में खिलाड़ियों को उस खेल के तय मापदंड का पालन करने के साथ खेल भावना का पालन अवश्य करना चाहिए। उद्घाटन स्थल पर मौजूद स्थानीय लोग ने कहा जहां माधव चौधरी को मौका मिलता है, वे अपने व्यस्त कार्यक्रम से समय निकालकर बच्चों और युवाओं को प्रेरित करने के लिए कार्यक्रम में ज़रुर शिरकत करते हैं।

बुधवार, 6 मार्च 2019

भेजें उन्हें लोकसभा और देखें कैसे होता है जनता की समस्या का समाधान- माधव चौधरी

सीतामढ़ी। जननेता अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी लगातार जनसम्पर्क अधियान के तहत सीतामढ़ी की जनता से मिलते जुलते रहते हैं। जनता से लगातार संपर्क और संवाद उनके स्वभाव में शुमार है। जिस भी ईलाके में जाते हैं वहां के लोग से मिलकर उनका हालचाल लेते हैं, उनकी समस्या जानते हैं और यथासंभव समाधान निकालने की कोशिश करते हैं। माधव चौधरी कहते हैं कि जहां भी वे जाते हैं उन्हें हमेशा लगता है कि वे अपनों के बीच हैं। सोनबरसा प्रखंड में रजवाड़ा, नरकटिया, इंदरवा पंचायत, राममंदिर, दल काबा, पासवान टोला, दलकाबा बाज़ार में जनसम्पर्क अभियान चला। इस अभियान में विश्व जागरण मंच, फ्रेंड्स ऑफ माधव के सैकड़ों कार्यकर्ता समेत कई गणमान्य लोग शामिल रहे। अगल-बगल के गाँव के लोग भी जननेता माधव चौधरी से मुलाकात कर अपनी बात रखी। माधव चौधरी ने लोग से आह्वान किया कि वे ऐसे नेता को इस बार लोकसभा भेजें, जो उनके बीच के हों, जिनसे संवाद करने में उन्हें कोई परेशानी न हो। उन्होंने कहा कि कोई उनके यहां से निराश नहीं लौटता, वे यथासंभव प्रयास करते हैं और समाधान निकलता भी है। वे इस बात को बखूबी समझते हैं कि जनप्रतिनिधियों से उनकी नाराज़गी यूं ही नहीं है।जनप्रतिनिधियों के स्वहित पर बोलते हुए श्री चौधरी ने कहा कि जो जनता उन्हें चुनकर भेजती है, उसे ही वे भूल जाते हैं। जनता की समस्या छोटी हो या बड़ी सच्चा नेता वही है जो संवेदनशीलता से उसको समझ पाए और ईमानदारी से समाधान की ओर उसके कदम बढ़ें। माधव चौधरी ने लोग से अपील की कि अगर उन्हें लगता है कि वे उनके बीच के हैं और उनकी समस्या को लेकर सदैव गंभीर रहते हैं तो उन्हें इस बार लोकसभा भेजें।

मंगलवार, 5 मार्च 2019

युवा बनाएं खेल को अपने दिनचर्या का हिस्सा

सीतामढ़ी। जीवन में खेल का खास महत्व होता है। व्यक्तित्व निर्माण और सटीक जीवन शैली के लिए हर युवाओं को किसी न किसी खेल में भाग लेना चाहिए। आवापुर मध्य विद्यालय में क्रिकेट टूर्नामेंट का उद्घाटन करते हुए जननेता माधव चौधरी ने उक्त बातें कही। उन्होंने युवाओं से कहा कि जीवन की यात्रा में कई ऐसे मोड़ आएंगे, जहां मानसिक और शारीरिक मजबूती उस समय की मांग होगी। खेल के जरिए निर्णय लेने की क्षमता में संवर्धन के साथ सकारात्मक ऊर्जा का संचार भी होता है। श्री चौधरी ने युवाओं से आह्वान किया कि वे किसी न किसी खेल को अपने दिनचर्या का हिस्सा बनाएं। उन्होंने सरकार से भी अपील की कि हर ज़िले में सरकार को खेल के लिए ज़रुरी बुनियादी ढ़ांचे के विकास पर काम करना चाहिए। ऐसा करने से युवाओं को भी खेल के जरिए भविष्य संवारने और खेल के जरिए संभावनाओं को तलाशने का मौका मिलेगा।

सोमवार, 4 मार्च 2019

कर्ता करे न कर सके, शिव करै सो होय तीन लोक नौ खंड में, महाकाल से बड़ा न कोय

सीतामढ़ी। फाल्गुन मास की कृष्ण चतुर्दशी के दिन महाशिवरात्रि मनाया जाता है। विश्व मानव जागरण मंच के संस्थापक माधव चौधरी ने पत्नि श्रीमती जाह्न्वी चौधरी के साथ बानेश्वर महादेव स्थान पर बाबा भोलेनाथ का जलाभिषेक और पंचामृत से अभिषेक कर विशेष विधि विधान से पूजा अर्चना की। इस अवसर पर माधव चौधरी ने कहा कि सोमवार और सवार्थसिद्धि योग होने के कारण महाशिवरात्रि इस साल विशेष शुभ संयोग बना रहा है। उन्होंने कहा कि हर साल महाशिवरात्रि के मौके पर वे सीतामढ़ी के अलग अलग ईलाके में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होते हैं और शोभा यात्रा का भी हिस्सा बनते हैं। इस साल भी श्री चौधरी ने धर्मपुर, पुपरी में अष्टजाम, लगमा एवं डुमरा में आयोजित शिवस्तोत्रम आरती कार्यक्रम में भाग लिया। राजोपट्टी में आयोजित भजन संध्या में भी माधव चौधरी शामिल हुए और लोग से मुलाकात की। इस अवसर पर उन्होंने आह्वान किया कि महाशिवरात्रि के इस शुभ अवसर पर वचन लें कि हम सब मिलकर सीतामढ़ी ज़िला के विकास की नई गाथा लिखेंगे। विश्व जागरण मंच, बाबा मनोकामना नाथ सेवा समिति, सीतामढ़ी धाम एवं फ्रेंडेस ऑफ माधव की ओर से महाशिवरात्रि शोभायात्रा के बाद महाभोज प्रसाद बांटा गया।

सोमवार, 4 मार्च 2019

जनसम्पर्क अभियान : जनता अगर लोकसभा भेजेगी तो तमाम समस्याएँ खत्म होंगी

सीतामढ़ी। जननेता माधव चौधरी उर्फ अमित चौधरी ने सीतामढ़ी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के कई इलाकों में जनसम्पर्क अभियान चलाया। उन के साथ सैकड़ों समर्थक थे। उन्होंने इस दौरान विभिन्न इलाकों के लोग से मिलते हुए अपनी विकासवादी नीतियों और अपने साम्प्रदायिक सौहार्द के विचारों से अवगत कराया। अपने बीच माधन चौधरी को पाकर लोग अत्यन्त प्रसन्न दीखे। भ्रमण के दौरान माधव ने कहा कि साीतामढ़ी लोकसभा क्षेत्र में कई समस्याएँ हैं। इन समस्याओं का समाधान पूर्व के अथवा वर्तमान जनप्रतिनिधियों ने नहीं किया। इस कारण लोग अपने जनप्रतिनिधियों से रुष्ट हैं। ऐसे नेताओं को चुनाव में जनता पराजित कर सबक सिखायेगी। जननेता माधव ने जानीपुर गाँव, नानपुर प्रखंड, मधुबन गाँव, रामनगर बेदौल, पुपरी, चरौत, यदुपट्टी, सुरसंड, परिहार आदि इलाकों में घर-घर जनसम्पर्क किया। कुछ गाँवों में स्थानीय ग्रामीणों के आग्रह पर सभाओं के भी आयोजन किये गये। जनससमयाओं के निवारण के प्रति समर्पित और क्षेत्र में विकास को नया आयाम देने का माद्दा रखनेवाले अमित उर्फ माधव चौधरी ने कहा कि यदि आसन्न लोकसभा निर्वाचन में जनता उन्हें लोकसभा भेजती है तो तमाम समस्याओं को खत्म किया जायेगा। उन्होंने कहा कि वह घूम-घूमकर स्थानीय दिक्कतों को देख-समझ रहे हैं; ताकि उन का समाधान किया जा सके।

मंगलवार, 26 फरवरी 2019

लोकसभा चुनाव में माधव चौधरी को जिताने का आह्वान, ग्रामीणों का मिला समर्थन

सीतामढ़ी। विश्व मानव जागरण मंच और फ्रेंड्स ऑफ माधव की तरफ से ‘माधव चले गाँव की ओर’ कार्यक्रम के तहत भगवतीपुर गाँव, कंहमाँ, परिहार प्रखंड में लोग के बीच जनसंपर्क करते हुए सैकड़ों समर्थकों के साथ परिभ्रमण करते हुए जननेता माधव चौधरी उर्फ अमित चौधरी ने ग्रामीणों की समस्याओं को निकट से देखा और कहा कि इन समस्याओं का वह अपने स्तर से निवारण का भरपूर प्रयास करेंगे। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि यदि वे इस बार उन्हें लोकसभा भेजते हैं तो समस्त समस्याओं का स्थायी निराकरण किया जायेगा। ग्रामीणों ने उन्हें अपना वोट देने की बात कही। परिहार और आसपास के गाँवों में सड़क, पेयजल व बिजली की मुख्य समस्या है। इस से रूबरू होते हुए माधव चौधरी ने कहा कि पूर्व के जनप्रतिनिधियों ने केवल यहाँ की जनता से वोट लिया मगर विकास का काम नहीं किये। उन्होंने कहा कि इस बार अपने बीच के माधव को वोट देकर देखें कि विकास कैसे होता है।

सोमवार, 25 फरवरी 2019

निरन्तर बढ़ रही लोकप्रियता, सांसद बनने पर करायेंगे बाढ़ का स्थायी समाधान

सीतामढ़ी। जिले के बाढ़ग्रस्त इलाकों में जनसम्पर्क अभियान के अन्तर्गत भ्रमण करते हुए स्थानीय ग्रामीणों से जननेता अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने कहा कि हर साल बाढ़ से होनेवाली परेशानी का स्थायी निराकरण होना चाहिये। अब तक की सरकारों ने इस पर गम्भीरतापूर्वक ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा- यहाँ बाढ़ आने का कारण नेपाल की नदियाँ हैं। माधव ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि यदि जनता उन्हें लोकसभा भेजती है तो केन्द्र सरकार पर दबाव बनायेंगे कि वह नेपाल सरकार से वार्ता कर यहाँ आनेवाली बाढ़ का स्थायी निवारण कराये। विदित हो कि माधव चौधरी अपने हजारों समर्थकों के साथ इन दिनों सीतामढ़ी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में दिनभर सघन जनसम्पर्क अभियान चला रहे हैं। विश्व मानव जागरण मंच और फ्रेंड्स ऑफ माधव की ओर से आयोजित इस अभियान को ‘माधव चले गाँव की ओर’ का नाम दिया गया है। इस अभियान में माधव चौधरी को सभी धर्मों और सभी जातियों के लोग का भरपूर समर्थन मिल रहा है। ग्रामीणों को वह अपने सब को साथ लेकर विकास करने के उद्देश्यों और विचारों की जानकारी दे रहे हैं। तिलक ताजपुर पंचायत, रुन्नीसैदपुर प्रखंड के कई गाँवों का दौरा किया गया। जनसंपर्क अभियान के तहत मानपुर रत्नावली गाँव के दुर्गा मंदिर प्रांगण में भी स्थानीय ग्रामीणों के साथ सभा की गयी। सभा में उपस्थित लोग उन के समर्थन में हामी भरे। इसी तरह तिलक ताजपुर गाँव में विजय सिंह के आँगनबाड़ी केंद्र पर उपस्थित लोग से माधव मिले तो वहाँ उपस्थित अधिकतर ग्रामीणों ने बताया कि वे पहले कई बार अपनी समस्याओं को लेकर उन से मिले थे और माधव ने उन का समाधान भी किया। माधव की टोली जब तिलक ताजपुर ग्राम पंचायत के मुखिया मिंदर साह के आवास पर पहुँची तो वहाँ पहले से ही लोग इन्तज़ार में बैठे थे। मुखिया मिंदर साह ने कहा कि उन के पंचायत के लोग केवल माधव के पक्ष में ही लोकसभा आम निर्वाचन में मतदान करने का मन बना चुके हैं। इस से पता चलता है कि माधव चौधरी उर्फ अमित चौधरी की लोकप्रियता निरन्तर बढ़ रही है।

रविवार, 24 फरवरी 2019

ग्रामीण हुए एकमत, जिस माधव चौधरी से होते रहे हैं लाभान्वित, उसे भेजेंगे लोकसभा

सीतामढ़ी। पूरे समन्वय के साथ मैं पूरी तरह भारतीय संस्कृति को मानते हुए जाति, धर्म, सम्प्रदाय और ऊँच-नीच के भेदभाव से हटकर सब की समस्या में साथ रहता हूँ। जहाँ तक सम्भव हो मैं अपने स्तर से हर शहरी और ग्रामीण की दिक्कतों को जड़ से खत्म करने का प्रयास करता हूँ। ‘माधव चले गाँव की ओर’ अभियान के तहत विभिन्न गाँवों के परिभ्रमण के दौरान माधव चौधरी उर्फ अमित चौधरी ने उक्त बात ग्रामीणों से कही। सुबह से देर शाम तक उन्होंने अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ धोबहा, महेशाफ़र्कपुर, रून्नीसैदपुर के अलावा सुरसंड प्रखंड के बिररख, बीसपट्टी, लक्ष्मीपुर, आदि गाँवों का दौरा किया। भ्रमण के दौरान माधव चौधरी के साथ अभियान के महिला मोर्चा की नेत्री जाह्नवी चौधरी और बड़ी संख्या में महिलाएँ भी थीं। सभी गाँवों में सभा आयोजित कर उन्होंने सब को साथ लेकर चलने और सब के विकास की अपनी नीति और विचार से अवगत कराये। सुशील मिश्रा के घर और कोआहि चौक पर मुखिया रामबाबू सहनी के व्यावसायिक परिसर में भी माधव चौधरी के समर्थन में ग्रामीणों का जुटान हुआ। वहाँ जब माधव और जाह्नवी के नेतृत्व में सैकड़ों लोग पहुँचे तो ग्रामीणों के चेहरे खिल उठे। इस बीच ग्रामीणों ने बताया कि वे माधव के साथ हैं और कहा कि सीतामढ़ी के लाखों लोग किसी-न-किसी रूप से माधव चौधरी से लाभान्वित हुए हैं। अब समय आ गया है कि जो जनता वर्षों से उन से लाभान्वित होती रही है, वे उन के पक्ष में मतदान कर अपना ऋण उतारें।

शनिवार, 23 फरवरी 2019

जाह्नवी के आह्वान पर माधव चौधरी को लोकसभा चुनाव में जिताने के लिए लोग संकल्पित हुए

सीतामढ़ी। गाँव हो शहरी क्षेत्र हो या कस्बाई इलाका, सब का सम्यक् विकास होना चाहिये। हर क्षेत्र के लोग को सरकारी योजनाओं और परियोजनाओं का लाभ मिलना चाहिये। यह बात ‘माधव चले गाँव की ओर’ अभियान के तहत ग्रामीण क्षेत्रों के परिभ्रमण के दौरान विश्व मानव जागरण मंच और फ्रेंड्स ऑफ माधव के महिला मोर्चा की अगुवाई कर रही श्रीमती जाह्नवी चौधरी ने कहा। उन के नेतृत्व में सैकड़ों महिलाओं ने सुरसंड प्रखंड के श्रीखंडी भीठा पूर्वी, छोटकी भीठा, गाँधीनगर, चकनी बाजार समेत आसपास के सभी गाँवों में घूमकर अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी के सामाजिक उत्थान और राजनीतिक विचारों और उद्देश्यों को ग्रामवासियों के बीच रखा। इस दौरान जाह्नवी ने ग्रामीणों से कहा कि इस बार लोकसभा आम चुनाव में पार्टी, जाति और धर्म से ऊपर उठकर एक साथ मिलकर अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी को भारी मतों से जितायें। उन्होंने कहा कि वैसे नेताओं को जो क्षेत्र की जनता का हाल-चाल लेने भी नहीं आते और विकास को ज़मीन पर नहीं उतारते, उन्हें चुनाव में हराकर यह साबित करें कि आप का जनप्रतिनिधि आप के बीच का ही होगा, आप का भाई आप का बेटा माधव चौधरी ही लोकसभा में आप का प्रतिनिधित्व करेगा। जिन-जिन गाँवों में विश्व मानव जागरण मंच और फ्रेंड्स ऑफ माधव के महिला मोर्चा की नेत्री जाह्नवी चौधरी अपने समर्थकों के साथ गुजरीं, वहाँ की महिलाओं और पुरुष ग्रामीणों ने यह भरोसा दिलाया कि वर्षों से माधव उन की समस्याओं का निराकरण कर रहे हैं, इसलिए लोकसभा में उन्हें ही जितायेंगे।

शनिवार, 23 फरवरी 2019

माधव चले गाँव की ओर : कोई बड़ा या छोटा नहीं, समान भाव से जनता के लिए समर्पित

सीतामढ़ी। जननेता माधव चौधरी उर्फ अमित चौधरी इन दिनों ज़िले के गाँव-गाँव घूमकर पूर्व व वर्तमान जनप्रतिनिधियों द्वारा किये गये कार्यों का जायजा ले रहे हैं। साथ ही ग्रामीणों की समस्याओं को स्वयं देख-समझ रहे हैं; ताकि उन का निष्पादन हो सके। उन्होंने कहा कि उन के समर्थक उन के गाँव-परिभ्रमण को अभियान की तरह चला रहे हैं जिसे ‘माधव चले गाँव की ओर’ का नाम दिया गया है। माधव चौधरी अपने समर्थकों के साथ कोहबरबा गाँव, (जय नगर पंचायत, सोनबरसा प्रखंड) में गुड्डू के आवास पर स्थानीय ग्रामीणों से मिले, उन की बात सुनी और अपने उद्देश्य और विचारों से उन्हें अवगत कराया। जयनगर बाजार में भी माधव ने ग्रामीणों की सभा की और सब को साथ लेकर चलने के अपने विचार से अवगत कराया। इस के बाद वे दर्जनों समर्थकों के साथ मढ़िया स्थित कबीर मठ पहुँचे। वहाँ सभी साधु-सन्तों और उपस्थित ग्रामवासियों से सहृदयता से मिले और उन के साथ स्थानीय मुद्दों को लेकर चर्चा की। सब ने उन्हें लोकसभा में सीतामढ़ी का जनप्रतिनिधित्व करने के लिए चुनाव लड़ने का आग्रह किया। ‘माधव चले गाँव की ओर’ का काफ़िला आगे बढ़ा और रजवाड़ा, मुशरनिया, सोनबरसा गाँवों के लोग से मिलते-जुलते पुरनदाहा रजवाड़े में पहुँचे। इस दौरान माधव चौधरी उर्फ अमित चौधरी के साथ काफ़ी संख्या में सभी जातियों और धर्मों के लोग मौजूद थे। इस दौरान माधव चौधरी उर्फ अमित चौधरी ने कहा कि उन की नज़र में कोई बड़ा और कोई छोटा नहीं है। वे सभी को समान मानते हुए सदैव सेवा भाव से जनता के लिए समर्पित रहते हैं।

शुक्रवार, 22 फरवरी 2019

माधव चले गाँव की ओर : विकास की नीति से अवगत हुईं ग्रामीण महिलाएँ

सीतामढ़ी। विश्व मानव जागरण मंच और फ्रेंड्स ऑफ माधव की ओर से ‘माधव चले गाँव की ओर’ अभियान के महिला मोर्चा के सदस्यों ने कई गाँवों का दौरा किया और ग्रामीणों खासकर महिलाओं को जननेता माधव चौधरी के सर्वधर्म समभाव और सब के विकास की नीति से अवगत कराया। अभियान का नेतृत्व श्रीमती जाह्नवी चौधरी कर रही थीं। अभियान से जुड़ी महिलाओं ने बौरा बाजितपुर पंचायत, पुपरी प्रखंड के बौरा, पूरा, पोखर भिंडा आदि गाँवों का दौरा किया और ग्रामीण समस्याओं को परखा। जाह्नवी ने गाँव की महिलाओं से कहा कि वे इस बार लोकसभा आम निर्वाचन में वैसे प्रतिनिधि को चुनें जो उन का नेता नहीं, उन का मित्र, भाई या बेटा बनकर लोकसभा में उन की आवाज़ बने और उन की समस्याओं का निराकरण करे। उन्होंने महिलाओं को जागरूक किया कि वोट को बेकार न जाने दें और क्षेत्र की भलाई के लिए, विकास कि लिए अवश्य ही मतदान करें।

शुक्रवार, 22 फरवरी 2019

माधव चले गाँव की ओर : बथनाहा प्रखण्ड के कई गाँवों का दौरा, ग्रामीणों में खुशी

सीतामढ़ी। विश्व मानव जागरण मंच और फ्रेंड्स ऑफ माधव की ओर से आयोजित अभियान ‘माधव चले गाँव की ओर’ के तहत जननेता माधव चौधरी उर्फ अमित चौधरी कई गाँवों और पंचायतों में घूमकर ग्रामीणों से मिले। माधव ने जहाँ ग्रामीणों की समस्याओं को निकट से देखा, वहीं हर घर के लोग से मिले और उन का हाल-चाल जाना। स्थानीय लोग गाँवों की विभिन्न समस्याओं से उन्हें अवगत कराया। माधव की लोकप्रियता का आलम यह है कि वह एक गाँव से दूसरे गाँव जा रहे हैं तो पहले गाँव के लोग उन्हें दूसरे गाँव तक छोड़ने जा रहे हैं। इस दौरान माधव चौधरी उर्फ अमित चौधरी ने कहा- जो आँखों से देखकर अनुभव किया जा सकता है, उसे दूसरों से जानकर या सुनकर नहीं समझा जा सकता। यही कारण है कि मैं स्वयं गाँव-गाँव परिभ्रमण कर ग्राम समस्या और ग्रामीण जनजीवन का जायजा ले रहा हूँ। ग्रामीणों को जागरूक करते हुए उन्होंने कहा कि वे अवश्य मतदान करें और इस बार लोकसभा में उन के पक्ष में मतदान कर क्षेत्र की प्रगति को नया आयाम दें। अपने दर्जनों समर्थकों के साथ माधव चौधरी उर्फ अमित चौधरी ने बथनाहा प्रखंड के मधुबनी गाँव, बखरी पंचायत, बथनाहा प्रखंड में ही शिवजी सिंह के चिमनी पर अपने उद्देश्य और विचारों के साथ ग्रामीणों से मिले। इस के बाद माधव बथनाहा प्रखंड के ही ठाकुर स्थान, धूमहा गाँव, विष्णुपुर पीतांबर गाँव, गोदवारा गाँव, सहियारा पंचायत, थीथराहा गाँव में राज देवी स्थान पर पूजार्चना कर उपस्थित लोग से मिले और उन्हें अपने विचारों और आदर्श से अवगत कराये। अन्त में माधव शाहपुर, छौड़हिया, सहियारा पंचायत में राम नाम यज्ञ में शामिल हो वहाँ उपस्थित सभी लोग से मिले। अपने बीच माधव चौधरी को पाकर ग्रामीणों ने खुशी का इज़हार किया और उन के चेहरों से प्रसन्नता झलक रही थी। इस दौरान हर गाँव के लोग उन के समर्थन में दीखे।

बृहस्पतिवार, 21 फरवरी 2019

श्री सीताराम नाम महायज्ञ : भारतीय संस्कृति के विरोधियों को वोट न देने की सलाह, करें ‘जय सीते’ का उद्घोष

पुनौरा धाम (सीतामढ़ी)। भारत ऋषियों-मुनियों की पवित्र भूमि है। यहीं से विश्व ने सभ्यता और संस्कृति का पाठ पढ़ा। हमारी समृद्ध संस्कृति ही हमारी पहचान है। जहाँ तक सीतामढ़ी की बात है तो यह आदिशक्ति माता सीता की अवतार भूमि है। उन्होंने इस धरा को अपने पावन चरणों से पवित्र किया है। माता सीता की जन्मस्थली पुनौरा धाम में ‘श्री सीताराम नाम महायज्ञ’ की कलश शोभा यात्रा कार्यक्रम में सीतामढ़ी के जननेता अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी उपस्थित अपार जनसमूह को सम्बोधित कर रहे थे। श्री चौधरी ने आगे कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने ‘श्रीमद्भगवद्गीता’ में यज्ञ के लाभ की विस्तृत चर्चा की है। यज्ञ में आहुति केवल अग्नि में ही नहीं दी जाती, आहुति आन्तरिक भी होती है। आन्तरिक आहुति देने की यज्ञ-परम्परा को ही ‘नाम यज्ञ’ की भी संज्ञा दी जाती है। भगवान का नाम उच्चारण करने से, श्रीहरि का स्मरण करने से जहाँ आत्मशुद्धि होती है, वहीं वातावरण में भी सकारात्मकता का संचार होता है। भगवान और माता सीता के जयकारे के बीच भारतीय संस्कृति का लोकतान्त्रिक स्वरूप समझाते हुए अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने कहा कि हमें आनेवाले लोकसभा आम निर्वाचन में भी सतर्कता से अपने मताधिकार का उपयोग करना है। उपस्थित भक्तों को सलाह देते हुए माधव चौधरी ने कहा कि वैसे किसी भी नेता को वोट न देने का प्रण लें जो सर्वधर्म समभाव वाली भारतीय संस्कृति के विरुद्ध कार्य करते हैं या जिन का आचरण कलंकित है। उन्होंने सब का आह्वान करते हुए संकल्प करने को कहा कि आज से किसी से भी मिलें तो हाय-हलो के बदले सम्बोधन में ‘राधे-राधे’ या ‘जय सीते’ शब्द का उपयोग करें। उन्होंने कहा कि माता सीता की अवतार भूमि पर ‘जय सीते’ का जयघोष यह बता देगा कि यह ‘सीतामढ़ी’ की पवित्र भूमि है।

बुधवार, 20 फरवरी 2019

लोकतन्त्र का हो रहा मज़ाक, दलों के दलदल में जनता की आवाज़ गुम हो रही है

सीतामढ़ी। विश्व का सब से बड़ा लोकतन्त्र है भारत। यहाँ जनता अपना प्रतिनिधि चुनती है जो सरकार का निर्माण कर शासन करते हैं। पर, संवैधानिक रूप से सच इस बात को राजनीतिक दलों ने झूठा साबित पर तूली हुई है। जनादेश का भी राजनीतिक दलों द्वारा अतिक्रमण जारी है। यह सब देखकर लगता ही नहीं है कि लोकतन्त्र में जनता भी कुछ है। यह कहना है सीतामढ़ी के लोकप्रिय राजनेता अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी का। उन्होंने आगे कहा कि दलों के दलदल में जनता की आवाज़ गुम होती जा रही है। उन्होंने कहा यदि जनता उन्हें इस बार लोकसभा भेजती है तो लोग देखेंगे कि विकास किसे कहते हैं। वह सीतामढ़ी को प्रगति का आदर्श बनाना चाहते हैं। दलीय नेताओं ने लोकतन्त्र को मज़ाक की वस्तु बना दिया है। जनप्रिय नेता माधव इस बार लोकसभा आम निर्वाचन में निर्दलीय खड़े हो रहे हैं। 17 जनवरी 2019 को सीतामढ़ी के परिहार प्रखण्ड से चुनावी शंखनाद कर उन्होंने यह जता दिया कि जनता का नेतृत्व केवल राजनीतिक दलों के बैनर तले ही नहीं होता। विदित हो कि अब तक वे दर्जनों चुनावी सभाओं को सम्बोधित कर चुके हैं जिन में हजारों की भीड़ उमड़ती है। सेवा और परोपकार का भाव उन्हें सामान्य नेताओं से अलग करता है। अमित उर्फ माधव चौधरी ने बताया कि सीतामढ़ी की जनता की माँग पर वे लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे और मतों के माध्यम से जनता जो आदेश देगी, उसे स्वीकार करेंगे। वह 2015 में बिहार विधानसभा के लिए भी लड़ चुके हैं।

रविवार, 17 फरवरी 2019

जनता की जयकार : सीतामढ़ी से माधव चौधरी सांसद बनें इस बार

सीतामढ़ी। इस लोकसभा क्षेत्र के परिहार में विश्व मानव जागरण मंच के बैनर तले आयोजित मतदाता जागरूकता सभा में सीतामढ़ी की जनता ने जनप्रिय नेता अमित उर्फ माधव चौधरी के नाम का जयघोष करते हुए कहा कि बहुत हो गया जनप्रतिनिधियों द्वारा शोषण, अब लोकसभा में ऐसा जनप्रतिनिधि भेजेंगे जो जनहित को स्वहित में न बदले; जनता का काम, विकास का काम और क्षेत्र की प्रगति का ख्याल रखे। सभा में भारी संख्या में उपस्थित स्थानीय लोग एक सुर से माधव चौधरी को लोकसभा आम निर्वाचन में खड़ा होने का आग्रह किये। इस बीच जनाकांक्षा का ख्याल रखते हुए निरन्तर जनहित के काम में संलग्न माधव चौधरी ने जनसमूह के आग्रह पर कहा कि उन की माँग पर वह लोकसभा में सीतामढ़ी का प्रतिनिधित्व करने को तैयार हैं। माधव चौधरी ने अपने सम्बोधन में कहा कि मतदाता जिस दिन जागरूक हो जायें और यह समझने लगें कि उन्हें उन के बीच का ऐसा नेता चाहिए जो स्वहित को भूलकर उन के हर सुख-दुख में सदैव मौजूद रहे, उसी दिन से समस्याओं का समाधान होने लगेगा। चौधरी ने कहा कि देश का बड़ा तबका वोट की ताक़त को आज़ादी के इतने वर्षों बाद भी समझ नहीं पाये। जाति, धर्म और विज्ञापन की चाशनी में लपेटकर मुद्दे को नेता मासूम जनता को परोसते हैं तो जनता दिग्भ्रमित हो जाती है और ऐसे नेता को चुन लेती है जिन का सरोकार सिर्फ़ ख़ुद से होता है। नेता चुने जाते हैं, सरकार बनती है, योजनाएँ आमजन के लिए बनाये जाते हैं लेकिन धरातल पर क्या हश्र होता है, यह किसी से छिपा नहीं है। माधव चौधरी ने लोग से आह्वान किया कि स्वहित के इस मकड़जाल को तोड़ने के लिए अपने वोट के महत्त्व को समझें और नेता नहीं अपने बीच के साथी का चुनाव करें। चौधरी ने कहा कि देश में दो प्रमुख समस्याएँ हैं- गरीबी औऱ भ्रष्टाचार, और ये तब तक खत्म नहीं हो सकते जब तक व्यवस्था में बदलाव न किया जाय। सीतामढ़ी की मिट्टी इतनी पवित्र है कि इस से तिलक लगाया जाता है, यहाँ के लोग इतने अच्छे और नेकदिल हैं, फिर आखिर क्या वजह है कि आज़ादी के 72 वर्षों बाद भी सीतामढ़ी देश के सब से पिछड़े ज़िले की श्रेणी में आता है। इतने वर्षों से जिन जनप्रतिनिधियों को आपने चुना, उन्होंने आप की ज़िन्दगी में क्या बदलाव लाया, इस जिले के विकास के लिए क्या सकारात्मक काम किया? जागरूकता सभा में उपस्थित लोग ने एक स्वर में कहा- हमें 2019 के लोकसभा आम चुनाव में नेता नहीं जननेता चाहिए और हर सुख-दुख का साथी, कंधे-से-कंधा मिलाकर चलनेवाला हमारे बीच का माधव चौधरी चाहिए।
रविवार, 17 फरवरी 2019

मतदाता जागरूकता सभा : जनसमस्या से बेखबर जनप्रतिनिधि कर रहे हैं राजनीतिक महत्त्वाकांक्षा की घुड़सवारी

सीतामढ़ी। परिहार में आयोजित मतदाता जागरूकता अभियान के तहत आयोजित सभा में सीतामढ़ी ज़िले के दूर-दराज से लोग भाग लेने पहुँचे। सभी लोग का उत्साह देखने लायक था। जननेता के रूप में माधव उर्फ अमित चौधरी को सभी सुनना चाहते थे। सभा स्थल पर पहुँचने से पहले माधव चौधरी का काफिला जिस रास्ते से गुजरा, लोग उन का जोरदार स्वागत किये। रास्ते में उपस्थित जनसमूह के बीच रूककर विनम्रता से लोग का अभिवादन स्वीकर करते हुए जननेता श्री चौधरी अपने काफ़िले के साथ आगे बढ़े। कई जगहों पर लोग अपनी समस्याओं से भी उन्हें अवगत कराते रहे। कई स्तर पर लोग व्यक्तिगत आकांक्षा का भी प्रस्ताव देते रहे जिन का वे समुचित निराकरण करते समर्थकों के साथ बढ़ते रहे। माधव चौधरी ने बताया कि जनता से बातचीत के दौरान उन्हें यह अहसास हुआ कि कैसे कई इलाकों की समस्याएँ वर्षों से वैसी ही हैं और जनसमस्या से बेखबर जनप्रतिनिधि अपनी राजनीतिक महत्त्वाकांक्षा की घुड़सवारी कर रहे हैं।

 
मंगलवार,  12 फरवरी 2019

व्यवस्था परिवर्तन से खत्म होगी गरीबी, मिटेगा भ्रष्टाचार

सीतामढ़ी। विश्व मानव जागरण मंच के संस्थापक अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने कहा कि भारत को आज़ाद हुये सात दशक से अधिक बीत गए मगर अब तक यहां भ्रष्टाचार और गरीबी हर स्तर पर कायम है। इसका प्रमुख कारण यह है कि पहले के जनप्रतिनिधियों ने इस ओर ध्यान ही नहीं दिया। इसके कारण 70 फीसदी आबादी तंग और तबाह है। नेता जनहित के कार्य छोड़कर स्वहित में लगे हैं। केवल सरकार बदलने से गरीबी और भ्रष्टाचार को नहीं मिटाया जा सकता है। अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने आगे कहा कि व्यवस्था परिवर्तन कर के ही भारत को गरीबी और भ्रष्टाचार मुक्त बनाया जा सकता है। अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जननेता अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने आगाह किया कि वे किसी भी स्तर पर भ्रष्टाचार को न पनपने दें और गरीबों का हर स्तर पर सहयोग करें।

बुधवार, 6 फरवरी 2019

गरीबों के होठों की मुस्कान देती है नई ताकत

सीतामढ़ी। विश्व मानव जागरण मंच के संस्थापक अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने अपने कार्यकर्ताओं को लोकसभा निर्वाचन की तैयारी का मंत्र देते हुए कहा कि सबसे पहले क्षेत्र की गरीबी से लड़ना उनका फर्ज है। इसलिए प्रण लें कि मूल मुनाफे के तीसरे हिस्से को गरीबों और ज़रुरतमंदों के बीच वितरित करेंगे। इससे नई अर्थव्यव्स्था कायम होगी। उन्होंने गरीबों के बीच क्षेत्र के गरीबों के बीच ज़रुरत की सामग्रियों को वितरित करने के पश्चात कहा कि गरीबों के होठों की मुस्कान उन्हें नई ताकत देती है। उन्होंने कहा कि गरीबी का प्रधान कारण समाज में व्याप्त भ्रष्टाचार है। इसलिए सरकारी तंत्र और सामाजिक संरचना में व्याप्त भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिए यह आवश्यक है कि लोकसभा में जनहित के कार्य में समर्पित व्यक्ति ही चुने जाएं। पूरे कार्यक्रम के दौरान माधव चौधरी के साथ उनकी पत्नी व मंच की नेत्री जाह्नवी चौधरी भी उपस्थित रहीं।

बुधवार, 30 जनवरी 2019

कंबल वितरण : सेवा भाव से सहयोग कर मिलती है आत्मिक शांति

सीतामढ़ी। पुपरी और नानपुर प्रखंड में ज़रुरतमंदों के बीच कंपकंपाती ठंढ से राहत के लिए कंबलों का वितरण किया गया। कंबल पाकर लोग अत्यंत प्रसन्न नज़र आए। फ्रेंड्स ऑफ माधव की ओर से कंबल वितरण का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। यह आयोजन ज़िले के पुपरी प्रखंड में बेलमोहन गांव और नानपुर प्रखंड के महुआगाछी गांव में हुआ। इस दौरान निर्धन स्त्री पुरुषों को कंबल देते हुए विश्व मानव जागरण मंच के संस्थापक अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने कहा कि ज़रुरतमंदों की सेवा और सेवाभाव से सहयोग उनका परम कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि समाज के हर तबके के लोग को सम्मानपूर्वक जीने का अधिकार है। माधव चौधरी ने साधन सम्पन्न लोग का आह्वान किया कि वे अपनी आमदनी का कुछ हिस्सा समाज के पिछड़े लोग पर खर्च करें तो उन्हें आत्मिक शांति मिलेगी।

शुक्रवार, 18 जनवरी 2019

गरीबी हटेगी तभी समाज बढ़ेगा

सीतामढ़ी। गरीबी एक अभिशाप है जो स्वतंत्र भारत में भी समाज का पीछा नहीं छोड़ रही है। इसका मूल कारण यहां के जनप्रतिनिधि हैं। वे अपनी सुख सुविधा के लिए करोड़ों खर्च कर लेते हैं मगर गरीब, वृद्ध, दिव्यांग और अन्य ज़रुरतमंदों को पेंशन या अनुदान देने के लिए उनके पास राशि का अभाव हो जाता है। जनहित की ऐसी योजनाएं लागू भी होती हैं तो उस राशि का बंदरबाँट कर लिया जाता है और गरीब गरीब ही रह जाते हैं। परिहार के उच्च विद्यालय परिसर में आयोजित विश्व मानव जागरण मंच की जनसभा के दौरान विश्व मानव जागरण मंच के संस्थापक व संयोजक अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने उक्त बातें कही। युवाओं की समस्याओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें केवल सरकारी नौकरी के आसरे नहीं रहना चाहिए बल्कि स्वरोजगार के विकल्प तलाश कर खुद को सशक्त बनाने की दिशा में बढ़ना चाहिए। माधव चौधरी ने युवाओं से आह्वान किया कि वे इतना सशक्त हो जाएं कि वे समाज को नई दिशा व नया आयाम दे सकें। उन्होंने मंच की ओर से हर संभव सहायता देने की भी घोषणा की। जाति, धर्म और गुटबंदी से अलग होकर उन्होंने मतदान का आह्वान किया। उन्होंने स्वयं को सीतामढ़ी का सेवक और माता सीता की पवित्र भूमि का पुत्र बताते हुए कहा कि यहां की जनता एक बार उन्हें मौका देकर देखें कि उनका हक़ उन्हें किस प्रकार वापस मिल जाता है। उपस्थित लोग ने उनके समर्थन में जोरदार नारे लगाए।

रविवार, 13 जनवरी 2019

जीवन में खेल का खास महत्व

सीतामढ़ी। युवाओं के लिए खेल का खास मह्त्व है। इससे आपसी भाईचारा, सौहार्द और टीम भावना का विकास होता है, जो जीवन के हर क्षेत्र में कामयाब होने के लिये आवश्यक है। सीतामढ़ी ज़िला क्रिकेट संघ लीग मैच का शुभारंभ करते हुए गोयनका कॉलेज, सीतामढ़ी में विश्व मानव जागरण मंच के संस्थापक अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने उक्त बातें कही। उन्होंने खिलाड़ियों और उपस्थित खेल प्रेमियों से कहा कि खेल सदैव खेल की भावना से ही खेली जानी चाहिए। इसमें स्वस्थ प्रतियोगिता हो, प्रतिस्पर्धा के लिए अनैतिक कार्य नहीं होनी चाहिए। खेल के जरिए शारिरिक और मानसिक विकास तो होता ही है, इसके साथ ही बच्चों में समय का महत्व और निर्णय लेने की क्षमता का भी विकास होता है। उन्होंने कहा कई राज्यों में सरकार ने खेल को लेकर ऐसी नीति बनाई है जिससे बच्चे खेल के जरिए अपना भविष्य संवारते हैं। लेकिन बिहार में इस ओर कोई ठोस पहल नहीं की गई है। सरकार के उदासीन रवैये से बच्चे एवं युवओं का मनोबल टूटता है, जबकि प्रदेश में कई प्रतिभावान खिलाड़ियों में देश का नाम रौशन करने की जबर्दस्त संभावना है।

रविवार, 13 जनवरी 2019

देशभक्ति की भावना से कार्य करते हुए देश और समाज की प्रगति में योगदान दें

सीतामढ़ी। स्वामी विवेकानंद युवाओं के अमर प्रेरणास्रोत हैं। उनकी हर गतिविधि और उनके प्रत्येक वक्तव्य प्रेरणा के पुंज हैं। जिस प्रकार विश्व स्तर पर उन्होंने भारत का कीर्ति पताका लहराया, उसी प्रकार हमें भी देशभक्ति की भावना से कार्य करते हुए देश और समाज की प्रगति में योगदान देना चाहिए। स्वामी विवेकानंद जयंती मेधा प्रतियोगिता पुरस्कार वितरण समारोह में जननेता माधव चौधरी बोल रहे थे। उपस्थित जनसमूह से उन्होंने कहा कि जिस दिन देश का युवा जागरुक हो जाय और यह ठान ले कि उन्हें अनुशासन के मार्ग पर चलते हुए ही विकास का मार्ग प्रशस्त करना है, उसी दिन भारत के महान बनने की नींव पड़ जाएगी। कार्यक्रम का आयोजन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा किया गया। विधिवत दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन करने के पश्चात विश्व मानव जागरण मंच के संस्थापक अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने स्वामी विवेकानंद के चित्र पर पुष्प अर्पित किये। माधव चौधरी ने नसीहत के लहजे में कहा कि राजनीति से प्रेरित न होकर महापुरुषों के आदर्शों को आत्मसात करना चाहिए। मेधा प्रतियोगिता के विजेताओं को श्री चौधरी ने पुरस्कार प्रदान किया।

शुक्रवार, 4 जनवरी 2019

किसी के चेहरे पर मुस्कान कराता है अलग अहसास

सीतामढ़ी। जिनको बुनियादी ज़रुरतें पूरा करने के लिए जद्दोजेहद करना पड़ता है, उनसे पुछिए कि ठंढ क्या होती है। जब सर्द हवाएं अपने आगोश में लेने लगे, तो उनसे पुछिए ठंढ क्या होती है। उस वक्त उन तमाम लोग के मन में बस एक ही ख्याल आता है कि काश उन्हें अपने और अपने बच्चों को ठंढ से बचाने के कुछ उपाय ऊपरवाला अपने बंदे कि जरिए उन तक पहुंचाए। सरकारी व्यवस्था और जनप्रितिनिधियों के उदासीन रवैया को अरसे से अनुभव कर रहे इन लोग के मन में आस की दीपक बुझती नहीं है, उन्हें पता है कि कोई संवेदनशील व्यक्ति तो इनके दर्द को महसूस करेगा। उनकी यह सोच सही भी है। सीतामढ़ी के जननेता अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी अलग अलग ईलाके में ऐसे ज़रुरतमंद लोग के बीच कंबल वितरित करते हैं। वे कहते हैं कि जो सबल और सामर्थवान हैं, उन्हें इस मुहिम में आगे आकर मदद करनी चाहिए। इससे जो सुकून मिलता है उसको शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है। विश्व जागरण मंच की ओर से सीतामढ़ी सदर अस्पताल में जरुरतमंद मरीज और परिजनों को एवं मेहसौल चौक के पास ज़रुरतमंद लोग को कंबल दिया गया। कंबल वितरण के इस कार्यक्रम में फ्रेंड्स ऑफ माधव के साथियों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। मीडिया से बातचीत करते हुए माधव चौधरी ने कहा कि इसे वे एक मुहिम की तरह देखते हैं और परम कर्तव्य मानते हैं। उन्होंने कहा कि किसी के चेहरे पर मुस्कान एक अलग अहसास कराता है।

बृहस्पतिवार, 3 जनवरी 2019

भेजें मुझे लोकसभा, देखें कैसे बहती है क्षेत्र में विकास की बयार

सीतामढ़ी। ज़िले के परिहार में आयोजित विश्व मानव जागरण मंच के कार्यकर्ता सम्मेलन में संस्थापक अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी ने कहा कि समय आ गया है कि हम सभी मिलकर क्षेत्र के विकास के लिए कृतसंकल्पित हो जाए और लोकसभा चुनाव में अपने बीच के नेता को लोकसभा भेजने का प्रण लें। श्री चौधरी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे गाँव गाँव और घर घर घुमकर लोग को मंच की नीतियों और विकास के आदर्श से अवगत कराएं। एक स्वर से कार्यकर्ताओं ने उन्हें लोकसभा चुनाव में खड़ा होने का आह्वान किया। इस दौरान जननेता माधव चौधरी ने कहा- मेरे लिए राजनीति समाज सेवा का व्यापक रुप है। मैं कुर्सी के लिए राजनीति नहीं करता, मेरी लड़ाई गरीबी और भ्रष्टाचार से है। माधव चौधरी ने कार्यकर्ताओं को आगाह किया कि वे जन जन को वे बताएं कि किस प्रकार पहले के नेता स्वार्थ में आकर जनकल्याण से विमुख रहे। अब ऐसा नहीं होने देना है इसलिए सीतामढ़ी लोकसभा क्षेत्र से नई शुरुआत की जाएगी। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं के प्रयास सीतामढ़ी की जनता के प्यार से यदि वे लोकसभा पहुंच जाते हैं तो ज़िले का चहुंमुखी विकास होगा और समतामुलक समाज की स्थापना की जाएगी।

बृहस्पतिवार, 3 जनवरी 2019

लोग का स्नेह करता है प्रेरित

सीतामढ़ी। लोग से मिलना, उनकी समस्याओं को जानना, उनके सुख दुख में मौजूद रहना। यही खासियत है जननेता अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी का। जब भी मौका मिलता है वे लोग के साथ समय गुजारते हैं, उनका हाल-चाल लेते हैं। परिहार में मतदाता जागरुकता सभा की तैयारी को लेकर आयोजित बैठक खत्म होने के बाद, माधव चौधरी ने कई लोग से मुलाकात की। परिहार के एकडंडी गांव के पूर्व मुखिया भगवान सिंह के साथ वे उसी गांव के गुलाब सिद्दीकी के घर जाकर बड़े बुजूर्ग का आशिर्वाद लिया। इसके साथ ही कोरिया पिपरा पंचायत, सिसोटिया गांव के मुखिया और आमजन से मुलाकात की। गांव के लोग कहते हैं माधव चौधरी नेता नहीं जननेता हैं, वे उनके अपने हैं। जब कभी भी वे ईलाके का दौरा करते हैं, उनकी भरपूर कोशिश रहती है कि लोग से मिलें। यही माधव चौधरी के व्यक्तित्व को खास बनाती है। माधव चौधरी कहते हैं कि सीतामढ़ी की जनता का स्नेह उन्हें और आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। इसी प्रेरणा से निकला सकारात्मक ऊर्जा, उन्हें क्षेत्र की विकास के लिए ऐसा जज्बा देता है जिसमें जरुरतमंद की सेवा और सीतामढ़ी जिले को विकास से रौशन करना अहम है।

बृहस्पतिवार, 3 जनवरी 2019

मतदाता जागरुकता सभा की तैयारी पर मंथन

सीतामढ़ी। परिहार में आयोजित होने वाली प्रखंड स्तरीय मतदाता जागरुकता जनसभा को लेकर परिहार में बैठक हुई, जिसमें तैयारियों की समीक्षा की गई। इस बैठक में अलग अलग ईलाके से आए मुखिया, पूर्व मुखिया, समाजसेवी, बुद्धिजीवी, विश्व मानव जागरण मंच एवं फ्रेंड्स ऑफ माधव के सभी कर्मठ कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। बैठक में इस बात पर भी मंथन हुआ कि इस जनसभा को सफल बनाने एवं जनजन तक संदेश पहुंचाने के लिए क्या कुछ करने की जरुरत है। बैठक की अध्यक्षता कर रहे जननेता माधव चौधरी ने कहा कि लोकतंत्र में मतदाताओं की जागरुकता से विकास का रास्ता प्रशस्त होता है। लोग जागरुक होंगे तभी वे वैसे नेताओं की पहचान कर पाएंगे कि वे जनहित का काम करते हैं या स्वहित का। इसलिए यह बेहद जरुरी है कि सीतामढ़ी ज़िले के हर प्रखंड और पंचायत से लोग इस जनसभा का हिस्सा बनें और लोकतंत्र की मजबूती के लिए किए जा रहे प्रयास के साझीदार बनें। इस बैठक में जनसभा को सफल बनाने की कार्ययोजना पर चर्चा करते हुए माधव चौधरी ने कहा कि सही मकसद से किया गया कार्य हमेशा सकारात्मक प्रभाव छोड़ता है। उन्होंने उपस्थित सभी लोग से आह्वान किया कि वे अपने अपने ईलाके में जाकर मतदाता जागरुकता सभा में आने की अपील करें और जनता के बीच इसके मकसद का संदेश भी पहुंचाएं।

बुधवार, 2 जनवरी  2019

नया साल सब के लिए हो खास, ज़रुरतमंद के बीच बांटा गया कंबल

सीतामढ़ी। नया साल का जश्न सब अपने तरीके से मनाते हैं। लेकिन जननेता माधव चौधरी के लिए यह दिन जश्न से ज्यादा एक संकल्प लेने का है। संकल्प इस बात का कि जिनकी आवाज़ हुक्मरानों तक नहीं पहुंच पाती है, उनकी आवाज़ बनने का, संकल्प इस बात का कि जिन्होंने किसी जनप्रतिनिधि से मदद की उम्मीद छोड़ दी हो, उनके घर तक पहुँच कर मदद का हाथ बढ़ाना। विश्व मानव जागरण मंच और फ्रेंड्स ऑफ माधव की ओर से मानिक चौक और रुन्नीसैदपुर में नववर्ष के अवसर पर हनुमान अराधना का आयोजन किया गया। इस अवसर पर माधव चौधरी ने गांव के लोग और उपस्थित युवाओं से मिलकर उन्हें नए साल की शुभकामनाएं दी। विश्व मानव जागरण मंच की ओर से ज़रुरतमंद लोग के बीच कंबल वितरित किया गया। इस अवसर पर उपस्थित ग्रामीण, विश्व जागरण मंच एवं फ्रेंड्स ऑफ माधव के सभी साथियों को संबोधित करते हुए माधव चौधरी ने कहा कि समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्तियों तक हमें पहुंचना है, उनकी आवाज़ बननी है और उनके मदद के लिए सच्चा सिपाही बनना है। उन्होंने कहा कि यह एक मुहिम है जिसे मुकाम तक पहुँचाने की दिशा में सततता से बढ़ना है।

मंगलवार, 1 जनवरी 2019

नव वर्ष मंगलमय हो

सीतामढ़ी। साल 2019 सब लोग के लिए मंगलमय हो। नया वर्ष सबों की ज़िन्दगी में सुख, शांति, सम्पत्ति, समृद्धि, सफलता एवं उत्तम स्वास्थ्य लाए। इसी कामना के साथ सीतामढ़ी के लाल अमित चौधरी उर्फ माधव चौधरी पत्नि श्रीमती जाह्न्वी चौधरी के साथ भगवान का दर्शन कर नए साल की शुरुआत की। मीडिया से बातचीत करते हुए माधव चौधरी ने कहा कि जिस जज्बे के साथ उन्होंने सीतामढ़ी की जनता की सेवा करने की दिशा में कदम बढ़ाया है, सभी लोग का साथ भरपूर मिल रहा है। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधि के अंदर सेवाभाव की भावना व्यवस्था परिवर्तन की पहली और आखिरी शर्त है। सीतामढी़ की इस पवित्र भूमि को नमन और यहां की जनता को नमन। साल 2019 एक ऐसा वर्ष होगा जो विकास की नई ईबारत लिखेगा, और इसकी शुरुआत सीतामढ़ी से होगी। नूतन वर्ष के आगमन पर माधव चौधरी ने सीतामढ़ी की जनता को हार्दिक शुभकामनाएं दी।



नाम - अमित चौधरी उर्फ़ माधव चौधरी

पिता - राजेश्वर चौधरी ग्राम - पोस्ट- बररी बेहटा थाना - पुपरी ज़िला - सीतामढ़ी राज्य - बिहार संस्थापक - विश्व मानव जागरण मंच अभिरुचि - समाज सेवा

उपलब्धि : बिहार विधान सभा चुनाव 2015 में सुरसंड विधानसभा (26) से दूसरे स्थान पर रहे। बिहार में निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर सब से ज्यादा वोट लाने वाले उम्मीदवार रहे। सीतामढ़ी में सक्रियता : (1) विश्व मानव जगरण मंच के बैनर तले समाज के किसान, मजदूर, दलित, शोषित एवं पिछड़े समुदाय के लोग में जागरुकता अभियान चलाना। (2) ज़रुरतमंद लोग की अपनी क्षमता के मुताबिक सहयोग देना। इसमें गरीब बच्चों की शिक्षा में सहयोग, गरीब परिवार की लड़की की शादी में सहयोग एवं ज़रुरतमंद लोग को चिकित्सा सुविधा में सहयोग करना प्रमुख हैं। (3) सीतामढ़ी ज़िले में आए आपदा में बढ़े मदद के हाथ। बाढ़ राहत में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया, कई इलाके में ज़रुरत के सामान और खाने की व्यवस्था करवाई गई। ठंढ़ में गरीब परिवार के लोगों के लिये कंबल और अलाव की व्यवस्था करवाई। आगजनी से प्रभावित लोग की मदद के लिये सार्थक प्रयास। (4) क्षेत्र के लोग की मदद के लिए सदैव तत्पर। (5) सामाजिक ताना बाना और आपसी सौहार्द्र बनाने के लिए सततता से कार्यरत। (6) किसान, मजदूर की आवाज़ बनना। (7) वैदिक विधि से किसानी के लिए अभियान। (8) सीतामढ़ी को शिक्षा हब बनाने के लिए हर फारम में आवाज़ बुलंद करना। (9) जनता को उनके अधिकार से अवगत कराने के लिए पूरे ज़िले में महाअभियान। (10) माता सीता की भूमि सीतामढ़ी को पिछड़ा ज़िला से अगड़ा ज़िला बनाने के लिए रणनीति तैयार करने में सक्रिय भूमिका। (11) सीतामढ़ी में युवाओं के लिए रोजगार के अवसर सृजित करने की दिशा में पहल। हम से जुड़ें (Connect with me) : मोबाईल- 9065490799, 6200135782 वेबसाईट- www.vmjm.org सीतामढ़ी की जनता के लिये मेरे द्वारा किये जा रहे हर विकास कार्य को आप https://www.loktantraindia.in के इस लिंक पर क्लिक कर देख सकते हैं--https://www.loktantraindia.in/info/%E0%A4%85%E0%A4%AE%E0%A4%BF%E0%A4%A4-%E0%A4%9A%E0%A5%8C%E0%A4%A7%E0%A4%B0%E0%A5%80-%E0%A4%89%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%AB-%E0%A4%AE%E0%A4%BE%E0%A4%A7%E0%A4%B5-%E0%A4%9A%E0%A5%8C%E0%A4%A7%E0%A4%B0/ आप हम से जुड़ें और अपनी समस्या हम तक https://www.loktantraindia.inloktantraindia.in के माध्यम से पहुँचा सकते हैं। https://www.loktantraindia.in में मुझे कुछ कहना है/WANT TO SAY के जरिये आप अपनी समस्या हम तक पहुँचा सकते हैं। यकीन मानिये मैं उस के समाधान की हरसंभव कोशिश करूंगा।
img src=""सदैव जनहित के काम में संलग्न जननेता अमित चौधरी उर्फ़ माधव चौधरी लोकतंत्र इंडिया के माध्यम से सीतामढ़ी की जनता से मुखातिब हैं। इस लिंक पर क्लिक करें और सुनें कि उन्होंने क्या कहा- https://www.youtube.com/watch?v=Z7sEnEkNk4U