अनामिका पासवान ANAMIKA PASWAN

https://www.loktantraindia.in के माध्यम से मैं अनामिका पासवान- जमुई की बेटी, आप सब के बीच हूँ और अपनी हर बात से आप सब को अवगत कराती रहूँगी। ऐसा कहनेवाली श्रीमती अनामिका हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) सेक्यूलर की प्रदेश महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष व प्रखर नेत्री हैं। बिहार में महिलाओं की समस्याओं को आवाज़ देना, महिला हक़ लिए आन्दोलन करना और हर सामाजिक समस्या से आमजन को निजात दिलाने को तत्पर रहती हैं अनामिका पासवान।

 

अनामिका पासवान Anamika Paswan


अनामिका पासवान द्वारा जनहित में किये गये कार्य

अनामिका पासवान को इस लिंक पर भी देखें-- https://www.youtube.com/watch?v=MxY3xMpu1v0




शुक्रवार, 8 मार्च 2019

महिलाओं के आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक उपलब्धियों का उत्सव- अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस

पटना। किसी ने खूब कहा है “ अभी रौशन हुआ जाता है रस्ता, वो देखो औरत आ रही है” महिला दिवस के अवसर पर हम(से) महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्षा श्रीमती अनामिका पासवान, सैकड़ों महिला कार्यकर्ताओं के साथ पटना की सड़कों पर निकलीं। ढ़ोल, नगाड़े की गूंज और हाथ में लाठी के साथ महिला दिवस के मौके पर खास संदेश देने के मकसद से निकली महिलाओं की टोली का नेतृत्व कर रहीं हम(से) की नेत्री श्रीमती अनामिका पासवान ने कहा कि महिलाएं अब कमजोर नहीं, वे अपनी मेहनत और लगन से हर क्षेत्र में कामयाबी की इबारत लिख रही हैं। ये बदलाव का दौर है। आत्मविश्वास से भरी महिलाओं की चुनौती भी अब खुद से है। हर क्षेत्र में महिलाओं ने खास मुकाम हासिल किया है। श्रीमती अनामिका पासवान ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस को वो महिलाओं के आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक उपलब्धियों के उत्सव के तौर पर मनाती हैं। श्रीमती पासवान ने इस अवसर पर विश्व की सभी महिलाओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि सभी क्षेत्रों में महिलाएं आगे बढ़ें और ऊंचे पायदान पर पहुंच कर एक मिसाल बनें।

रविवार, 3 मार्च 2019

शिक्षा के महत्त्व को समझें, बेटियों को पढ़ायें और मताधिकार का अवश्य उपयोग करें

मोकामा (पटना)। बाबा वीर चौहरमल की वीरता ने समाज में एक नयी क्रान्ति की शुरुआत की थी। चौहरमल ने समाज को एक नयी दिशा-दशा देने का कार्य किया। उन की जीवनी समाज को आपसी एकता के साथ आगे बढ़ने की सीख देती है। बाबा वीर चौहरमल आज भी समाज के लिए एक प्रतीक हैं, जो अधिकार के लिए लड़ने की प्रेरणा देते हैं। उक्त बात हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की बिहार महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने कही। वह चौहरमल स्थान पर एक कार्यक्रम को सम्बोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि जनता को निर्णय देने का समय आ गया है। उन्होंने उपस्थित जनसमूह से कहा कि लोकसभा आम निर्वाचन में क्षेत्र के विकास का दम-खम रखनेवाले नेता को ही जितायें। बाबा चौहरमल सभी जाति और सभी धर्मों के लोग के लिए प्रेरणास्रोत रहे हैं। उन से प्रेरणा लेकर हमें गाँव-गाँव तक हम पार्टी की नीतियों को पहुँचाना है। महिला अधिकार की बात करती हुई हम नेत्री अनामिका पासवान ने कहा कि महिला ही महिला के दर्द को व्यावहारिक रूप से जान-समझ सकती है। उन्होंने महिलाओं से आह्वान किया कि वह शिक्षा के महत्त्व को समझें, अपनी बेटियों को शिक्षित बनायें और मतदान के दिन अपने मताधिकार का अवश्य उपयोग करें।

रविवार, 24 फरवरी 2019

आँगनबाड़ी सेविकाओं और सहायिकाओं के एक कार्यक्रम में शिरकत

मुजफ्फरपुर। स्थानीय आँगनबाड़ी सेविकाओं और सहायिकाओं के एक कार्यक्रम में हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने पूर्व स्वास्थ्य मंत्री व राजद नेता तेजप्रताप यादव के साथ शिरकत की। इस दौरान अनामिका पासवान ने कहा कि राज्य सरकार की उपेक्षा का शिकार हो रही हैं आँगनबाड़ी सेविकाएँ। उन्हें मेहनत के अनुसार पारिश्रमिक नहीं मिल रहा है। कार्यक्रम के दौरान सेविकाओं-सहायिकाओं ने अपनी समस्याएँ रखीं। श्रीमती पासवान ने सब का आह्वान किया कि वे सभी आगामी चुनाव में सरकार बदलने का मन बना लें। उन्होंने कहा कि आँगनबाड़ी सेविकाओं और सहायिकाओं के माध्यम से कई सरकारी योजनाओं का लाभ आमजन तक पहुँचता है। इसलिए सरकार को चाहिये कि आप सभी का उचित ख्याल रखे, पर नीतीश सरकार ऐसा करने में विफल है। इस अवसर पर राज्य के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री व राजद नेता तेजप्रताप यादव का अभिनन्दन किया गया।

शनिवार, 23 फरवरी 2019

नीतीश इस्तीफा दें, सृजन घोटाले की तरह मुजफ्फरपुर शेल्टर होम की गवाह लड़कियों की जान खतरे में

पटना। बिहार में बढ़ते अपराध, मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में बिहार के मुख्यमंत्री की संलिप्तता उजागर होने और राज्य में हो रहे सरेआम बलात्कार और हत्या के विरोध में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इस्तीफे की माँग पर हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) सड़क पर उतरा। हम की महिला मोर्चा अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान के नेतृत्व में सैकड़ों महिलाओं की टोली हाथों में पोस्टर लेकर नीतीश कुमार और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करती हुई राजभवन की ओर कूच की। थोड़ी दूर आगे बढ़ते ही पुलिस से तीखी झड़प हो गयी। इस बीच महिलाओं की टोली को रोकने मात्र 4 महिला पुलिसकर्मी थीं जबकि अन्य दर्जनों पुरुष पुलिसकर्मी थे। अनामिका पासवान ने राज्य सरकार पर आरोप लगाया कि वह पुलिस के डण्डे से विपक्ष की आवाज़ को बन्द कराना चाहती है। उन्होंने कहा कि जब न्यायालय ने नीतीश कुमार के खिलाफ सीबीआई को जाँच का जिम्मा सौंपा है तो निष्पक्ष जाँच के लिए उन्हें मुख्यमंत्री पद से तत्काल इस्तीफा सौंप देना चाहिये। अनामिका पासवान ने कहा कि उच्चतम न्यायालय को बिहार सरकार पर से भरोसा उठ गया है, इसलिए मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले को बिहार की अदालत से दिल्ली की अदालत में शिफ्ट कर दिया है। राज्य सरकार बलात्कारियों को बचाने में लगी है, तभी तो प्राथमिकी में मुजफ्फरपुर शेल्टर होम के संचालक का नाम तक नहीं था। उन्होंने सन्देह व्यक्त किया कि जिस प्रकार हजारों करोड़ रुपयों के भागलपुर के सृजन घोटाले के गवाहों की पुलिस हिरासत में हत्या कर दी गयी, उसी तरह मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले की गवाह देनेवाली लड़कियों की जान भी जोखिम में है। एक बार प्रताड़ना से आजिज उन पीड़िताओं को मोकामा के शेल्टर होम से भगाकर मारने की साजिश की गयी, अब कुछ और किया जायेगा।

बृहस्पतिवार, 21 फरवरी 2019

पुलवामा में शहीद हुए संजय कुमार सिन्हा को घर जाकर दी श्रद्धांजलि

पटना। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में तारेगना मठ निवासी सीआरपीएफ के हवलदार संजय कुमार सिन्हा की शहादत हो गयी। इस की सूचना मिलते ही हमलोग को काफी दुख हुआ और कायरतापूर्ण आतंकी कार्रवाई पर अत्यन्त रोष हुआ। शहीद संजय कुमार सिन्हा की पत्नी बबीता देवी की हालत काफी खराब है। उन का रो-रोकर बुरा हाल है। रह-रह कर पति संजय की बात को याद का चीत्कार उठती हैं। इन बातों को कहती हुई हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा की महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान अत्यन्त भावुक हो गयीं। उन्होंने पुलवामा में शहीद हुए संजय कुमार सिन्हा के घर पहुँचकर उन के चित्र पर फूल चढ़ाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। उन के परिजन से मिलकर हर तरह से मदद करने का आश्वासन भी दीं। श्रीमती पासवान ने बताया कि शहीद के परिवार की एक माँग है कि शहीद का पुत्र को मेडिकल कॉलेज में नामांकन हो जाय। भारत सरकार और बिहार सरकार द्वारा दिये गये मुआवजे को इन्होंने ठुकरा दिया है। परिजनों का कहना है कि शहीद संजय कुमार सिन्हा के बड़े पुत्र को डॉक्टर बनता देखना चाहते थे, जो अधूरा सपना रहा। बस इसे एक मेडिकल इंस्टीच्यूट में दाखिला हो जाय और इन की पुत्री की शादी का खर्च सरकार उठाये। उन्होंने परिवार के एक सदस्य की सरकारी नौकरी की भी माँग बिहार सरकार से की है।

बुधवार, 20 फरवरी 2019

फुलवारी में महिला कार्यकर्ताओं की विशेष बैठक में हम प्रत्याशी को जिताने का आह्वान

फुलवारीशरीफ। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) अर्थात् हम के जनाधार को बिहार के सभी लोकसभा और विधानसभा क्षेत्रों में मजबूत किया जा रहा है। राज्य में बूथ स्तर तक पार्टी की इकाइयों को स्थापित किया जा रहा है जो अन्तिम चरण में है। राज्य के अधिकांश क्षेत्रों में पार्टी के कार्यकर्ताओं की फौज हम के प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित कराने को संकल्प भाव से कार्य कर रहे हैं। पटना के फुलवारीशरीफ़ विधानसभा क्षेत्र में महिला कार्यकर्ताओं की विशेष बैठक को सम्बोधित करती हुई हम की महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने उक्त बात कहीं। उन्होंने आगे कहा कि फुलवारी विधानसभा क्षेत्र के वर्तमान विधायक ने जनता को अपने हाल पर छोड़ दिया है। यहाँ के ज़रूरतमन्द लोग को इन्दिरा आवास सहित अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिला है। श्रीमती पासवान ने कार्यकर्ताओं को आश्वस्त किया कि वह जल्द ही पटना के जिलाधिकारी से मिलकर तमाम समस्याओं से लोग को राहत दिलायेंगी। अनामिका पासवान ने फुलवारी की जनता से कहा कि जनहित के कार्य करनेवाले हम प्रत्याशियों को ही वोट दें। जो जीतकर जनता को भूल जाये, उसे कदापि अपना बहुमूल्य मत न दें। उन्होंने महिला कार्यकर्ताओं से कहा कि वे घर-घर घूमकर लोग को हम की नीति से अवगत करायें।

मंगलवार, 19 फरवरी 2019

हम कार्यकारिणी का निर्णय : महागठबन्धन में अपमान बर्दाश्त नहीं, विकल्प पर करेंगे विचार

पटना। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) सेक्युलर की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की महत्त्वपूर्ण बैठक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी के नेतृत्व में हुई। बिहार के पूर्व मुख्यमन्त्री श्री मांझी ने इस दौरान राष्ट्रीय कार्यकारिणी की मदद से कई अहम निर्णय लिये। बैठक में उपस्थित हम की महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने लिये गये निर्णयों की जानकारी देते हुए कहा कि बिहार में हम का जनाधार निरन्तर बढ़ रहा है फिर भी ‘कुछ लोग’ हमें अण्डरस्टीमेट कर रहे हैं। जो लोग हम पार्टी की बढ़ती लोकप्रियता से घबराते हैं, वे ही हमें कम आँकने की भूल कर रहे हैं। श्रीमती पासवान ने आगे कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने बैठक के दौरान यह महसूस किया कि महागठबंधन में पार्टी का अपमान किया जा रहा है। पहले सम्मान देकर महागठबंधन में बुलाये, फिर अपमानित किया जा रहा है। अनामिका पासवान ने जोर देकर कहा कि पिछले उपचुनाव में महागठबंधन की जीत मांझी की लोकप्रियता और हम के मजबूत जनाधार की वजह से हुई लेकिन आज उन्हें एक सीट देने की बात कर अपमानित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उन्हें काँग्रेस, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी और विकासशील इंसान पार्टी से कम सीटें कतई मंजूर नहीं। इन दलों से उन्हें कम-से-कम एक सीट ज्यादा चाहिये। श्रीमती पासवान ने कहा कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने श्री मांझी को लोकसभा आम निर्वाचन के लिए सीट बँटवारे को लेकर अन्तिम निर्णय लेने के लिए अधिकृत किया। सम्मानजनक सीट नहीं मिलने पर पार्टी अगले विकल्प पर विचार करेगी। अनामिका ने बताया कि कार्यकारिणी ने विशेष चर्चा में लोकसभा आम निर्वाचन को देखते हुए कई बिन्दुओं पर मन्थन किया। पार्टी को बूथ स्तर तक मजबूती के लिए कार्य करने का भी निर्देश क्षेत्रीय संगठन को दिया गया है।

मंगलवार, 19 फरवरी 2019

हम की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में जीतनेवाले प्रत्याशियों पर विचार मंथन

पटना। बिहार की चर्चित राजनीतिक पार्टी हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) को ‘हम’ के नाम से भी जाना जाता है। हम की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की इन दिनों विशेष बैठक चल रही है। इस सम्बन्ध में हम की महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने कहा कि इस में आगामी लोकसभा आम निर्वाचन को लेकर लगातार विचार मंथन चल रहा है। राज्य के सभी जिलों के अलावा देश के अन्य भागों से भी नेतागण इस में शिरकत कर रहे हैं। फिलहाल हम महागठबन्धन का अंग है। बैठक में प्रत्याशियों के चयन और संभावित प्रत्याशियों की सम्बन्धित क्षेत्र में लोकप्रियता को भी आँका जा रहा है; ताकि जीत सुनिश्चित की जा सके। श्रीमती पासवान ने बताया कि पार्टी के वरीय नेताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी के नेतृत्व में लोकसभा आम निर्वाचन के बाबत कई अहम बिन्दुओं पर चर्चा की। कई गोपनीय बिन्दुओं पर मंथन हुआ। उन्होंने बताया कि बिहार में पार्टी का मजबूत जनाधार है। इसलिए महागठबन्धन में सम्मानजनक स्थान मिलने की बात श्री मांझी ने कही है।

बृहस्पतिवार, 14 फरवरी 2019

बदलाव यात्रा : बिहार में कुशासन है, कोई सुरक्षित नहीं

जहानाबाद। स्थानीय गाँधी मैदान में ‘बदलाव यात्रा’ का आयोजन किया गया। इस में भारी संख्या में लोग जुटे और अपने नेताओं के वक्तव्य सुने। इस का आयोजन बिहार के राजनीतिक दलों के ‘महागठबन्धन’ ने किया था। विदित हो कि महागठबन्धन में हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) यानी हम भी शामिल है। हम की तरफ से बदलाव यात्रा में शामिल महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने जोरदार ढंग से राज्य सरकार की विफलताओं को रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि बिहार में अब कोई सुरक्षित नहीं है। माँ-बहनों की इज्ज़त से खिलवाड़ आम बात हो गयी है। वहीं हत्या और लूट एक कारोबार की तरह फल-फूल रहा है। राज्य में अपराध चरम पर है। ऐसे में अनामिका पासवान ने लोग को आगाह किया कि वे लोकसभा निर्वाचन में महागठबन्धन के प्रत्याशियों को ही अपना बहुमूल्य मत दें। उन्होंने कहा कि बिहार में सुशासन नहीं कुशासन है।

बुधवार, 30 जनवरी 2019

हम का जनाधार बढ़ा रहीं अनामिका : भादपा नेत्री बबिता को दिलायीं हम की सदस्यता

जमुई। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (से) महिला प्रकोष्ठ की बिहार प्रदेश अध्यक्ष-सह-जमुई लोकसभा क्षेत्र प्रभारी श्रीमती अनामिका पासवान हम का निरन्तर जनाधार बढ़ाने में लगी हैं। उन्होंने जमुई और राज्य के कई हिस्सों में घूम-घूमकर पार्टी से कार्यकर्ताओं और नेताओं को जोड़ा है। यही कारण है कि लोग हम के प्रति समर्पित भाव व्यक्त कर रहे हैं। अनामिका पासवान महिलाओं में राजनीतिक जागरूकता ला रही हैं। जमुई के सर्किट हाउस में उन के निर्देश पर हम महिला प्रकोष्ठ की जिलाध्यक्ष तुलसी देवी ने बबिता गौरव को जमुई जिला हम महिला प्रकोष्ठ का उपाध्यक्ष नियुक्त किया। इस के पूर्व बबिता गौरव भारतीय दलित पार्टी (भादपा) में थीं। वह भादपा में बिहार प्रदेश महिला सेल की महासचिव थीं। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (से) की नीतियों की बात जब वह अनामिका पासवान और अन्य नेताओं से सुनीं तब हम में शामिल होने की बात सोची। हम की नवनियुक्त जमुई जिला महिला प्रकोष्ठ उपाध्यक्ष बबिता गौरव ने बताया कि पार्टी का जो भी निर्देश होगा, वह निष्ठापूर्वक निर्वहन करेंगी। उन्होंने कहा कि वह पार्टी के हित में कार्य करेंगी। इस अवसर पर पार्टी के पटना जिले के युवा अध्यक्ष राजन राज, प्रदेश सचिव किरण देवी, किसान प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र यादव आदि उपस्थित थे।

बुधवार, 30 जनवरी 2019

पेयजल व आवास की विकट समस्या : चाँदी के चम्मचवाला सांसद नहीं जानता जमुई की जनता का दर्द

जमुई। कहाँ हैं हमारे सांसद? पाँच साल से हमारे दर्द और क्षेत्र की समस्या देखने और समस्याओं के समाधान करने क्यों नहीं आते हमारे सांसद? अरे वो क्यों आयेंगे! जनता तो केवल वोट देने के लिए है, यही समझते हैं जमुई के वर्तमान लोकसभा सांसद। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) यानी हम की महिला अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने जमुई में भारी संख्या में जुटे ग्रामीणों के बीच उक्त बात कही। उन्होंने कहा कि स्थानीय सांसद के प्रति जमुई की आम जनता में रोष है। जनता गुस्से में है कि सांसद ने पूरे 5 वर्षों में उन की सुधि नहीं ली। विदित हो कि अनामिका पासवान हम की जमुई लोकसभा क्षेत्र प्रभारी भी हैं। श्रीमती पासवान क्षेत्र भ्रमण के दौरान जमुई के बरहट प्रखण्ड के पतौना पंचायत में पहुँचीं। वहाँ के बेहाल लोग को देखकर हम नेत्री की आँखें भर आयीं। लोग दौड़कर उन के पास पहुँचे और समस्याओं की आपबीती सुनायी। यहाँ के अधिसंख्य लोग केन्द्र व राज्य सरकार की योजनाओं के लाभ से वंचित हैं। उन वंचितों को उन का हक़ दिलाने का प्रयास लोकसभा सांसद ने भी नहीं किया। क्षेत्र की जनता के प्रति सांसद की यह उपेक्षापूर्ण व्यवहार अत्यन्त निन्दनीय है। हम नेत्री अनामिका पासवान ने बताया कि पतौना पंचायत में पड़नेवाले गाँवों में पेयजल की भारी किल्लत है। पीने के लिए भी लोग एक स्थानीय छोटी नदी के जल का उपयोग करते हैं। खाना बनाना, नहाना और घर के समस्त कार्य को पूरा करने के लिए लोग नदी का जल ले जाते हैं। गर्मी में जब नदी सूख जाती है तो स्थिति अत्यन्त भयावह हो जाती है। भ्रमण के दौरान अनामिका पासवान ने पाया कि इस गाँव में किसी भी ग्रामीण को इंदिरा आवास योजना के तहत घर बनाने को सरकारी लाभ नहीं मिल पाया है। ग्रामीणों की दयनीय स्थिति देखकर हम नेत्री ने कहा- कहाँ गये यहाँ के सांसद? चाँदी का चमच्च लेकर पैदा होनेवाला क्या जानेगा झोपड़ी में रहने वालों का दर्द! इस बीच अनामिका पासवान ने ग्रामीणों से समस्याओं का लिखित आवेदन लेकर उन्हें आश्वस्त किया कि जिलाधिकारी से मिलकर वह समस्याओं के समाधान का अथक प्रयास करेंगी।

बुधवार, 30 जनवरी 2019

बढ़ते अपराध के खिलाफ़ महाधरना, सुधि न लेनेवाले जनप्रतिनिधि को सबक सिखायेगी जनता

जमुई। लोकसभा में जमुई एक निर्वाचन क्षेत्र है। लोकसभा में यहाँ की जनता का प्रतिनिधित्व करनेवाले को स्थानीय समस्याओं से कोई लेना-देना नहीं है। हर दिन जमुई में लूट, डकैती, हत्या और माँ-बहनों के साथ दुष्कर्म की घटनाएँ हो रही हैं, मगर इस की गूँज न लोकसभा में सुनायी देती है और न बिहार की विधानसभा में। ऐसे में यहाँ की जनता ऐसे भगोड़े और जनससमस्या के प्रति लापरवाह जनप्रतिनिधि को चुनाव में हराकर उसे सज़ा देगी। जमुई के अम्बेदकर चौक पर एकदिवसीय महाधरना के दौरान उपस्थित लोग के बीच हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) यानी हम की बिहार महिला अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान बोल रही थीं। उन्होंने लोग को बताया कि हम पार्टी उन की हर समस्या में साथ है और उन की छोटी-बड़ी समस्याओं को खत्म करने का प्रयास करती रहती है। धरना स्थल पर काफी संख्या में स्थानीय महिलाओं और पुरुषों ने अपनी उपस्थिति दर्ज की और प्रशासन व राज्य सरकार के विरुद्ध नारे लगाये। हाल के दिनों में बिहार में बढ़े भ्रष्टाचार, हत्या, लूट-पाट, बेटियों के साथ हो रहे बलात्कार के विरुद्ध आवाज़ बुलन्द की गयी। अनामिका पासवान ने कहा बिहार की सरकार कम्भकर्णी नीन्द में है और प्रशासन हाथ-पर-हाथ रखकर अपराधियों को शह दे रहा है। उन्होंने अपराध का उदाहरण देते हुए कहा कि जमुई के नारडीह गाँव के जुड़न मांझी का तीन महीने पूर्व अपहरण किया गया था, पर अभी तक जमुई का पुलिस प्रशासन अपराधियो को पकड़ नहीं पायी है। अनामिका पासवान ने कहा कि जमुई में हो रही आपराधिक घटनाओं को तुरन्त रोका जाय अन्यथा सब्र का बाँध टूट जायेगा।

शनिवार, 26 जनवरी 2019

लहराया तिरंगा, लोकतन्त्र की रक्षा के लिए सच्चे जनप्रतिनिधि को चुनना ज़रूरी

मोकामा (पटना)। जमुई संसदीय क्षेत्र में अत्यधिक चर्चित और लोकप्रिय हम नेत्री श्रीमती अनामिका पासवान ने 70वें गणतन्त्र दिवस पर लोकतन्त्र की मजबूती पर बल दिया। इस दौरान श्रीमती पासवान ने कहा कि स्वार्थी और जनता का शोषण करनेवाले जनप्रतिनिधियों के चलते भारत का लोकतन्त्र खतरे में है। उन्होंने उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि लोकतन्त्र की रक्षा के लिए सच्चे जनप्रतिनिधि को चुनना अत्यन्त ज़रूरी है। यदि स्वार्थी, दबंग या भगेड़ू को लोकसभा या विधानसभा के लिए चुनेंगे तो वे क्षेत्र की जनता का काम नहीं करेंगे। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की महिला अध्यक्ष अनामिका पासवान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के साथ मोकामा टाल क्षेत्र के प्रसिद्ध चौहरमल स्थान पर राष्ट्रीय झण्डा फहराने के बाद भारी संख्या में उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित कर रही थीं। हम नेत्री अनामिका पासवान ने कहा कि आज देश के सामने कई समस्याएँ हैं। इन समस्याओं को दूर करने के लिए हम समस्त देशवासी एकजुटता का परिचय दें और आपस में प्रेम-मोहब्बत के साथ रहें। हमारी परम्परा है कि हम सभी जाति-धर्म के लोग समाज में आपस में मिलजुलकर रहते हैं। पर, कुछ असामाजिक तत्त्व हमें बहकाते हैं पर हमें बहकना नहीं है और चुनाव के समय अपना वोट सोच-समझाकर देना है। उन्होंने सलाह के लहजे में कहा कि हमें देश की प्रगति के लिए आपस में प्रेम-मोहब्बत के साथ रहना है।

सोमवार, 21 जनवरी 2019

कैमूर दुष्कर्म-हत्याकांड : न्याय दिलाने को सड़क पर उतरेगा हम, सीबीआई जाँच की माँग

कैमूर। पता नहीं राज्य में सरकार है या नहीं! राज्य में जिस तरह हर रोज लड़कियों की इज्जत तार-तार की जा रही है। बच्चियों और महिलाओं के साथ दुष्कर्म हो रहे हैं, उन की हत्या हो जा रही है मगर सरकारी महकमा हरकत में नहीं आता। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की बिहार प्रदेश महिला अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने कैमूर में यह बात कही। वह हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के साथ बिहार के कैमूर जिले के बड़ौरा गाँव में दिवंगत शशिकला के परिजनों से मिलने के बाद पत्रकारों से वार्ता कर रही थीं। विदित हो कि शशिकला बड़ौरा गाँव की रहनेवाली थी। वह बड़ी मेहनत से पढ़ी थी मगर सफल जीवन की उस की कामना को दबंगों ने पूरा नहीं होने दिया। पिछले दिनों शशिकला की दुष्कर्म कर हत्या कर दी गयी। इस पर कैमूर में काफी बवाल हुआ। जीतनराम मांझी और अनामिका पासवान अपने समर्थकों के साथ पीड़ित परिवार से मिलकर ढांढस बंधाया। पीड़ित परिजनों और स्थानीय लोग से मिली जानकारी के अनुसार इस जघन्य मामले को दबाने के लिए असामाजिक तत्त्व थाने में जाकर ताण्डव मचाये जिस का सारा आरोप पुलिस ने पीड़ित परिजनों और गाँव वालों पर लगाया है। हास्यास्पद स्थिति यह है कि न्याय दिलाने के बदले पुलिस ने उल्टे पीड़ितों के खिलाफ ही मुकदमा दर्ज किया है। पीड़िता परिवारवालों की तरफ सेे अभी तक मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है। हम नेता मांझी व नेत्री अनामिका ने इस का पुरजोर विरोध किया है। इस सम्बन्ध में अनामिका पासवान ने कहा कि शशिकला के परिजनों को न्याय दिलाने में हम पार्टी सब से आगे है। पार्टी इस को लेकर पटना में प्रदर्शन कर न्याय दिलायेगी। हम ने इस घटना की सीबीआई जाँच की माँग की है और कहा है कि बिहार सरकार पीड़ित परिवार को मुआवजा और एक सदस्य को सरकारी नौकरी दे।

रविवार, 20 जनवरी 2019

भगोड़े सांसद को सज़ा देगी जनता, ककनचोरा की समस्याओं का होगा निदान

जमुई। बिहार के पिछड़े जिलों में जमुई का नाम भी शामिल है। आज़ादी के बाद से कई जनप्रतिनिधि यहाँ की जनता के मतों की बदौलत लोकसभा और बिहार की विधानसभा में गये, पर वे सत्ता का सुख भोगने में लगे रहे। जनता समस्याओं से कराहती रही मगर उन के प्रतिनिधि ऐश-मौज में आराम फरमाते रहे। पर, अब जमुई की जनता को बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता। जमुई की जनता अब हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) यानी हम पार्टी के नेतृत्व में जागरूक हो गयी है। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की बिहार प्रदेश महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान जमुई के ककनचोरा गाँव के ग्रामीणों को सम्बोधित कर रही थीं। उन्होंने ककनचोरा में आगे कहा कि जमुई की प्रबुद्ध जनता लोकसभा आम निर्वाचन मंे भगोड़े और जनसमस्याओं के प्रति लापरवाह सांसद को सज़ा देगी। अनामिका पासवान ने ककनचोरा गाँव में अपने समर्थकों के साथ परिभ्रमण कर स्थानीय समस्याओं का जायजा लिया और ग्रामीणों से जनसमस्याओं पर गम्भीर चर्चा की। ग्रामीणों ने उन्हें बताया कि वे दशकों से जनप्रतिनिधियों द्वारा ठगे जा रहे हैं। भारी संख्या में मौज़ूद ग्रामीणों को उन की समस्याओं के प्रति आश्वस्त करती हुई श्रीमती पासवान ने कहा कि वह समस्याओं को जिलाधिकारी के समक्ष रखेंगी और त्वरित निदान को कहेंगी। उन्होंने विश्वास दिलाया कि वह स्वयं इस बाबत जिलाधिकारी से मिलेंगी।

रविवार, 13 जनवरी 2019

बिहार न्यायिक सेवा : 3500 अभ्यर्थियों के परिणाम घोषित करने की माँग, जोरदार प्रदर्शन

पटना। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की बिहार प्रदेश महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान के नेतृत्व में कानून के छात्रों ने विभिन्न माँगों के समर्थन में पटना उच्च न्यायालय के मुख्य प्रवेश द्वार के सामने अम्बेदकर प्रतिमा के निकट प्रदर्शन किया। विदित हो कि हम नेत्री श्रीमती पासवान स्वयं कानून की डिग्रीधारी हैं। धरना-प्रदर्शन के दौरान उन्होंने कहा कि अधिवक्ता का दर्द अधिवक्ता ही जान सकता है। मैं स्वयं अधिवक्ता हूँ, इसलिए अधिवक्ताओं पर होनेवाली ज़्यादती उन्हें बर्दाश्त नहीं। अनामिका पासवान ने प्रदर्शन स्थल पर जोर देकर कहा कि वेलोग कानून के विद्यार्थियों के साथ होनेवाले कानूनी खिलवाड़ के विरुद्ध सरकार के विरुद्ध प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने बिहार सरकार पर आरोप लगाया कि 30वीं बिहार न्यायिक सेवा में आरक्षित वर्ग को वंचित करने के लिए सरकार साजिश रची है। श्रीमती पासवान ने सरकार के विरुद्ध नारे लगा रहे युवा पुरुष व महिला अधिवक्ताओं के शोर-शराबे के बीच आगे कहा कि न्यायिक सेवा के लिए ली गयी परीक्षा में 3500 अभ्यर्थियों के परिणाम घोषित होने चाहिये। यदि ऐसा नहीं होता है तो आमजनता के सामने सरकार की कलई खुल जायेगी कि वह गरीब विरोधी है। सरकार ने मिलीभगत कर परिणाम के प्रकाशन में घपला करती है। इस कारण आरक्षण वर्ग के मेधावी छात्र को मौक़ा नहीं मिल पाता है। आरक्षित अधिवक्ता संघ के बैनर तले यह प्रदर्शन किया गया।

रविवार, 13 जनवरी 2019

क्षेत्र छोड़कर भागनेवाले नेता को लोकसभा निर्वाचन में हरायेगी जमुई की जनता

-अनिता देवी को गोपालपुर पंचायत अध्यक्ष बनाया गया

जमुई। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की बिहार प्रदेश महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान के नेतृत्व में पार्टी का जनाधार निरन्तर बढ़ रहा है। श्रीमती पासवान ने जोर देकर कहा कि जमुई के लोग क्षेत्र की जनता को अपने हाल पर छोड़कर भाग जानेवाले नेता को इसी वर्ष गर्मी के महीनों में होनेवाले लोकसभा आम निर्वाचन में मजा चखायेगी। उन्होंने आमजन से कहा कि वे लोकसभा चुनाव में वैसे लोग को ही अपना प्रतिनिधि बनाकर लोकसभा भेजें, जो हर समस्या में उन के साथ रहते हैं। हम नेत्री अनामिका पासवान जमुई स्थित खैरा प्रखण्ड के गोपालपुर पंचायत में जनसमूह को सम्बोधित कर रही थीं। विदित हो कि विभिन्न शहरों से गाँवों तक हम के कार्यकर्ताओं और स्थानीय स्तर के नेताओं की संख्या में वृद्धि हो रही है। स्थानीय खैरा प्रखण्ड के गोपालपुर पंचायत में हम की विशेष बैठक हुई। इस दौरान महिला अध्यक्ष अनामिका पासवान की उपस्थिति में सर्वसम्मति से अनिता देवी को गोपालपुर पंचायत का अध्यक्ष चुना गया। अनिता के नेतृत्व में पंचायत स्तर पर हम की समिति गठित करने का निर्देश श्रीमती पासवान ने दिया। साथ ही मतदान केन्द्र (बूथ) स्तर पर जल्द-से-जल्द समिति गठित करने का निर्देश दिया गया। इस अवसर पर नेत्री अनामिका पासवान ने उपस्थित हम समर्थकों और जनसमूह से कहा कि उन के सपनों को साकार करने में पार्टी सक्षम है, इसलिए उन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर समाज का उत्थान और देशसेवा में लग जाना चाहिये। उन्होंने युवाओं और महिलाओं से कहा कि राज्य में जितना हम का जनाधार बढ़ेगा, उतना ही समाज में अमन-चैन आयेगा।

शनिवार, 12 जनवरी 2019

युवा हुँकार सम्मेलन : युवाओं के मुद्दों को उठानेवाली पार्टी है हम

पटना। सभी वर्गों के युवाओं के लिए निरन्तर कार्य करनेवाली युवा नेत्री अनामिका पासवान ने युवा हुँकार सम्मेलन का उद्घाटन पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के साथ किया। इस दौरान भारी संख्या में युवक और युवतियाँ उपस्थित थीं। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की बिहार प्रदेश महिला अध्यक्ष अनामिका पासवान ने कार्यक्रम में युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि युवा शिक्षा को अपना सम्बल बनायें। शिक्षित व्यक्ति ही लोकतंत्र में राजनीतिक सूझबूझ के साथ कार्य कर सकता है। उन्होंने भारत सरकार से माँग की कि देश के युवाओं को उन का वाज़िब हक़ दिया जाय। उन्होंने इस बात का जिक्र किया कि भारत संसार मंे सब से युवा देश है। यहाँ की कुल आबादी का 40 प्रतिशत युवाओं की संख्या है। अनामिका पासवान ने कहा कि अधिक-से-अधिक युवा हम से जुड़ें। हम सभी जातियों और धर्मों के युवाओं की अपनी पार्टी है। यह युवाओं के मुद्दों को उठानेवाली पार्टी है।

सोमवार, 7 जनवरी 2019

मांझी से मुलाक़ात : आँगनबाड़ी सेविकाओं और सहायिकाओं के संघर्ष में हम का साथ

पटना। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) यानी हम की बिहार प्रदेश महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान के नेतृत्व में रंजना यादव के साथ सैकड़ों आँगनबाड़ी सेविकाओं ने अपनी माँगों को हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के समक्ष रखीं। इस सन्दर्भ में श्रीमती पासवान ने कहा कि आँगनबाड़ी सेविकाएँ समाज में अपना महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं। उन की कई माँगें हैं जो जायज़ हैं। पर, भाजपा-जदयू की वर्तमान बिहार सरकार कुछ सुनती ही नहीं। उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने उन की माँगों को गम्भीरतापूर्वक सुना और कहा कि हम पार्टी उन के साथ है। अनामिका पासवान का कहना है कि आँगनबाड़ी सेविकाओं और सहायिकाओं के संघर्ष में पार्टी गाँव से शहर और सड़क तक साथ निभायेगी। उन की माँगों को मनवाने के लिए हम सरकार पर दबाव डालेगा।

रविवार, 6 जनवरी 2019

हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी से मिलकर नववर्ष की बधाई दीं

पटना। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की बिहार प्रदेश महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी से विशेष मुलाक़ात की। इस दौरान श्रीमती पासवान ने श्री मांझी को पुष्पगुच्छ देकर नववर्ष 2019 की शुभकामना व बधाई दीं। इस दौरान बिहार के वर्तमान राजनीतिक हालात पर चर्चा की। अनामिका पासवान ने कहा कि श्री मांझी ने बिहार में पार्टी का जनाधार मजबूत करने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा आम निर्वाचन के मद्देनज़र मतदान केन्द्र स्तर तक कार्यकर्ताओं का चयन कर उन्हें पार्टी की नीतियों से अवगत कराया जा रहा है। सभी धर्मों और सभी तबके के लोग का झुकाव पार्टी की तरफ है, इसलिए हम (सेक्युलर) पार्टी एक नया राजनीतिक क्रान्ति लाने में सक्षम होगी।

बृहस्पतिवार, 3 जनवरी 2019

दूरदर्शन की निदेशक से मुलाकात, दी नववर्ष की शुभकामना

पटना। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की बिहार प्रदेश महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने दूरदर्शन बिहार की निदेशक श्रीमती रत्ना पुरकायस्था से मुलाकात की। दस दौरान श्रीमती पासवान ने श्रीमती पुरकायस्था को गुलाबों का गुलदस्ता देकर नववर्ष 2019 की शुभकामना दीं। इस दौरान दोनों ने बिहार के वर्तमान राजनीतिक हालात पर चर्चा की।

मंगलवार, 1 जनवरी 2019

राबड़ी व तेजप्रताप को नववर्ष की शुभकामना : महागठबन्धन के बैनर तले लोकसभा निर्वाचन में उतरेगा हम

पटना। नववर्ष 2019 का आगमन हो गया। लोग अपने तरह से नये वर्ष का स्वागत किये। इस अवसर पर बिहार प्रदेश हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने बिहार की पूर्व मुख्यमन्त्री श्रीमती राबड़ी देवी से उन के सरकारी आवास पर मिलीं और उन्हें पुष्पगुच्छ देकर नये साल की शुभकामना दीं। इस वर्ष होनेवाले लोकसभा आम निर्वाचन के मद्देनज़र बिहार में गठित महागठबन्धन के दो दलों हम व राजद नेत्रियों की मुलाक़ात काफ़ी मायने रखती है। अनामिका पासवान ने बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और राबड़ी देवी के ज्येष्ठ पुत्र तेजप्रताप यादव से भी मिलीं और उन्हें भी गुलदस्ता देकर नववर्ष के शुभअवसर पर शुभकामना और बधाई दीं। इस दौरान श्रीमती पासवान ने कहा कि यह गैरराजनीतिक मुलाक़ात थी। वैसे भी हम और राजद दोनों दल मिलकर महागठबन्धन के बैनर तले लोकसभा निर्वाचन में उतरेंगे, ऐसे में हमलोग आपस में मिलते-जुलते रहते हैं। लोकसभा निर्वाचन में सीटों के बँटवारे को लेकर उन्होंने कहा कि महागठबन्धन के सभी घटक दलों के शीर्ष नेता मिलकर इस का निर्णय लेंगे। सीटों को लेकर कहीं कोई खींच-तान नहीं है।

रविवार, 30 दिसम्बर 2018

हम के दलित प्रकोष्ठ की बैठक, दलित और शोषित की आवाज़ है हम

पटना। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) के दलित प्रकोष्ठ की बैठक पटना में रविवार को हुई। बैठक में हम (सेक्युलर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व बिहार के पूर्व मुख्यमन्त्री जीतनराम मांझी नेे पार्टी के सभी जिलाध्यक्षों को निर्देश दिया कि वे दलित और गरीब लोग की आवाज़ बनें। पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने जल्द-से-जल्द बूथ स्तर पर समिति के गठन करने का आदेश दिया। बैठक में मौजूद पार्टी की बिहार प्रदेश महिला अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने बैठक में शिरकत करने आये पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से कहा कि पार्टी गरीब, दलित व महादलित के हितों की रक्षा के लिए कृतसंकल्पित है। श्रीमती अनामिका पासवान ने कहा कि पार्टी की महिला इकाई दलित, शोषित और महिलाओं से सम्बन्धित हर उस मुद्दे को जोर-शोर से उठाती है जिन की आवाज़ हुक्मरानों तक नहीं पहुँच पाती है। श्रीमती पासवान ने कहा कि पार्टी जिन सिद्धान्तों पर चलती है, उस में दलित और शोषित की आवाज़ केन्द्र में रहती है, पार्टी को बूथ स्तर पर मजबूती देने के लिए पार्टी अध्यक्ष श्री जीतनराम मांझी के दिशा-निर्देश का पालन करते हुए उस दिशा में बढ़ंेगे और पार्टी को मजबूत आधार प्रदान करेंगे। हाल के दिनों में दलित को बाँटकर उन्हें महज वोटबैंक बनाने की राजनीति का पर्दाफाश हम (से) के बूथ स्तर के कार्यकर्ता करेंगे। पार्टी के हर इकाई के अध्यक्ष की यह जिम्मेदारी होगी कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने जो पार्टी को जो दिशा देने की योजना बनायी है, उस का पालन कर पार्टी को नये मुकाम तक पहुँचायें।

शुक्रवार, 14 दिसम्बर 2018

3 माह बाद भी अपहृत जुड़न मांझी का कोई सुराग नहीं, अपहर्ताओं से मिली हुई है पुलिस

जमुई। जमुई के रहनेवाले जुड़न मांझी का अपहरण दबंग लोग द्वारा कर लिया गया था। यह वारदात 19 सितम्बर 2018 की है। जब इस की सूचना हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) के स्थानीय कार्यकर्ताओं ने पार्टी की महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान को दी तो वह तुरन्त अपहृत के घर पहुँचीं और जुड़न मांझी के शोकाकुल परिजनों से मिलीं। परिजनों को सान्त्वना दीं। उन के प्रयास से प्राथमिकी दर्ज़ हुई। जब 10 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस हाथ-पर-हाथ दिये बैठी रही तब 26 सितम्बर 2018 को जुड़न मांझी की सकुशल बरामदगी के लिए नारडीह सड़क को जाम कर जमुई जिला प्रशासन से गुहार लगायी गयी। इस के बावजूद पुलिस सक्रिय नहीं हुई और उल्टे पीड़ित परिजनों को धमकाने लगी कि वेलोग मुकदमा वापस ले लें। इस बीच अपहृत जुड़न मांझी की पत्नी और उन के बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है। घर की आर्थिक स्थिति भी अत्यन्त नाजुक हो गयी है। अब 3 महीने बीत जाने के बाद भी जुड़न मांझी को पुलिस द्वारा बरामद नहीं किया गया है। जुड़न मांझी के साथ क्या हुआ नही हुआ कुछ भी पुलिस नहीं बता पा रही है। पुनः 14 दिसम्बर 2018 को दुबारा अनामिका पासवान अपहृत जुड़न मांझी के परिजनों से मिलीं। उन्होंने कहा कि जमुई पुलिस भी अपहर्ताओं से मिली हुई है। उन्होंने जुड़न मांझी के परिवार को हर संभव मदद दिलाने का भरोसा दिलाया है। इस लिंक पर अवश्य क्लिक करें : https://www.youtube.com/watch?v=ODZVQOxzdmM 

शुक्रवार, 14 दिसम्बर 2018

अनिता देवी बनी हम की गोपालपुर पंचायत अध्यक्ष, नया राजनीतिक जागरण का प्रयास

जमुई। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की बिहार प्रदेश महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने जमुई के खैरा प्रखण्ड के गोपालपुर पंचायत में हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की विशेष बैठक की। बैठक में बड़ी संख्या में महिलाओं और पुरुषों ने भागीदारी की। अनामिका पासवान ने इस अवसर पर ग्रामीणों से कहा कि हम (सेक्युलर) से जुड़कर लोकतन्त्र को मजबूत बनायें और लोकतान्त्रिक प्रक्रिया में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। उन्होंने सब से कहा कि वे निर्वाचन के दौरान मतदान केन्द्र पर जाकर मतदान अवश्य करें। जिन के नाम मतदाता सूची में नहीं है, उन को अपना नाम जुड़वाने का भी आह्वान किया। बैठक में अनिता देवी को गोपालपुर पंचायत का पंचायत अध्यक्ष नियुक्त किया गया। अनामिका पासवान ने नवनियुक्त पंचायत अध्यक्ष से कहा कि वह बूथ स्तर तक जल्द-से-जल्द समिति का गठन करें। हम (से) को गाँव-गाँव तक प्रसारित करने में लगी श्रीमती पासवान ने कहा कि हम (सेक्युलर) बिहार में नया राजनीतिक जागरण लाने में लगा है।

शुक्रवार, 14 दिसम्बर 2018

मोकामा के मोर गाँव की 3 दुष्कर्म पीड़िताओं से मिलकर दी सान्त्वना, प्रशासन पर दुष्कर्मियों से मिलीभगत का आरोप

पटना। पटना के मोकामा में हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की बिहार प्रदेश महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने मोर गाँव का भ्रमण किया। स्थानीय आम लोग से मिलने के बाद वह दुष्कर्म पीड़िता से मिलने उस के घर पहुँची। हम के कई नेता व कार्यकर्ता के साथ-साथ भारी संख्या में ग्रामीण भी उन के साथ पीड़िता के घर पहुँचे। उन्होंने 3 पीड़िताओं और उन के परिजनों से मिलकर बात की और सान्त्वना दिया कि वह और उन की पार्टी उन के साथ है और जब तक न्याय नहीं मिलता, तब तक वह संघर्षरत रहेंगी। अनामिका पासवान ने बताया कि गाँव के लोग बहुत ज़्यादा डरे-सहमे हुए हैं। आरोपित और प्रशासन की ओर से पीड़िता के परिवार को डराया-धमकाया जा रहा है। श्रीमती पासवान ने बताया कि पीड़िता का केस 24 घंटे के बाद थाने में लिया गया जिस की मैं घोर निन्दा करती हूँ। केस को कमजोर करने के लिए साजिश की जा रही है। मोकामा के मोर गाँव में 08 दिसम्बर 2018 को मोर के टाल इलाके से आ रही दलित परिवार की बच्चियों के साथ संध्या 4-5 बजे के करीब कुछ दबंग लड़कों ने जबरन पकड़कर बलात्कार किया। इस में प्रशासन की गलती सामने आयी है कि पीड़िता का केस दर्ज 24 घण्टे के बाद दर्ज हुई और जो दुष्कर्मी युवक हैं, उन का केस पहले दर्ज हुआ। बाढ़ की वर्तमान एएसपी लिपि सिंह और मोकामा के थानाध्यक्ष की मिलीभगत सामने आयी है। ये दोनों आरोपित लड़कों को बचा रहे हैं। प्रशासन लीपापोती करने में लगा है। अपराधी को बचाने में सरकार के मंत्री और विधायक लगे हुए हैं, डॉक्टर द्वारा मेडिकल रिपोर्ट बदला गया है। श्रीमती अनामिका पासवान ने यह माँग की है कि सीआईडी की निगरानी में मेडिकल बोर्ड का गठन हो और पीड़ित तीनों बच्चियों का रिमेडिकल करवाया जाय। उन्होंने निष्पक्ष जाँच करने की माँग करती हुई कहा कि समुचित जाँच होने पर ही दोषी युवकों को सख्त-से-सख्त सजा मिल सकेगी और पीड़िताओं को न्याय मिल सकेगा। अनामिका ने कहा कि वह इस मामले को लेकर संघर्ष करती रहेंगी और न्याय दिलवा कर ही रहेंगी। उच्चतम न्यायालय के निर्देशानुसार पीड़िता का चित्र यहाँ नहीं दिखाया जा रहा है। इस लिंक पर अवश्य क्लिक करें :  https://www.youtube.com/watch?v=wwzMfJTUtew

बृहस्पतिवार, 13 दिसम्बर 2018

पटना के मोकामा में 3 बच्चियों से दुष्कर्म पर हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा की नेत्री अनामिका पासवान ने क्या कहा, इस लिंक पर क्लिक करें और सुनें.....

https://www.youtube.com/watch?v=8l33wOGketI

रविवार, 9 दिसम्बर 2018

जीतनराम मांझी के साथ कई मुद्दों पर अनामिका पासवान ने की चर्चा

गया। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी और हम की बिहार प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष अनामिका पासवान के बीच महत्त्वपूर्ण बैठक हुई। इस बैठक में हम को बिहार में प्रखंड स्तर तक कार्यकर्ताओं की संख्या बढ़ाकर मजबूत बनाने पर बल दिया गया। अनामिका पासवान ने बताया कि महिलाओं की पार्टी में ज़्यादा-से-ज़्यादा भागीदारी सुनिश्चित करने पर भी चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि राज्य में अगले चुनावों में हम अपनी महत्त्वपूर्ण उपस्थिति दर्ज करेगा।

रविवार, 9 दिसम्बर 2018

गरीब चेतना रैली : सवर्ण भी दलित की तरह, मिले 15 प्रतिशत आरक्षण

गया। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के नेतृत्व में रविवार को स्थानीय गाँधी मैदान में हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की रैली आयोजित की गयी। हम पार्टी ने रैली को मगध प्रमंडल स्तरीय बताया। रैली को ‘गरीब चेतना रैली’ का नाम दिया गया। इस चेतना रैली में गरीबों और महादलित परिवार के लोग की भारी भीड़ जुटी थी। इस दौरान श्री मांझी ने गरीबों की एकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि गरीबों में राजनीतिक जागरूकता और शिक्षा का प्रसार करना हम का लक्ष्य है। इस अवसर पर हम की बिहार प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष अनामिका पासवान ने कहा कि हम की उपस्थिति से बिहार में नयी राजनीतिक क्रांति आयी है। अब हर पार्टी गरीबों और महादलितों की परवाह करने लगी है। श्रीमती पासवान ने आगे कहा कि यदि देश के गरीब जाग जायें, वे अपनी ताकत समझ जायें तो कोई कारण नहीं कि उन की गरीबी दूर न हो जाय। पूर्व मुख्यमंत्री सह हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने गाँधी मैदान में आयोजित प्रमंडलीय गरीब चेतना रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पेट की आग बुझाने के लिए बाहर कमाने जानेवाले मजदूरों को भी सरकारी कर्मियों की तर्ज पर पोस्टल बैलेट का लाभ मिलना चाहिए; ताकि वे अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें। इस के लिए सरकार को बाहर कमाने जानेवाले मजदूरों का रजिस्ट्रेशन कराना चाहिए। उन्होंने कहा कि सवर्ण भी दलित की तरह ही हैं। इन्हें भी आरक्षण की सुविधा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आजादी के 71 साल बाद भी सवर्ण जाति में गरीब परिवारों की हालत दलित की तरह ही है। उन्होंने सरकार से सवर्णों के लिए 15 प्रतिशत आरक्षण की माँग की। मांझी ने कहा कि अपने मुख्यमंत्रित्व काल में उन्होंने दलितों, गरीबों, अल्पसंख्यकों, पिछड़ों के उत्थान के लिए 34 निर्णय लिया था, जिसे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ठंडे बस्ते में डाल दिया है। उन्होंने कहा कि 34 निर्णयों का बुकलेट तैयार कर उसे आमलोग तक पहुँचाया जायेगा। यदि वे सरकार में आते हैं तो सब से पहले देश में कॉमन स्कूलिंग सिस्टम लागू किया जायेगा।

बृहस्पतिवार, 6 दिसम्बर 2018

शिक्षा को जीवन में महत्त्व देना ही अम्बेदकर के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि

जमुई। बिहार के जमुई जिले के बरहट प्रखण्ड के भलुका पंचायत में डॉ. भीमराव अम्बेदकर को याद किया गया। स्थानीय ग्रामीणों के बीच हम (सेक्यूलर) की महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने अम्बेदकर की पुण्यतिथि मनायी। उन्होंने कहा कि हमें समाज में छुआछूत के भेदभाव को मिटाना है। शिक्षा को जीवन में महत्त्व देना ही अम्बेदकर के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इस के लिए जरूरी है कि हम भी पढ़ें, हम भी बढ़ें। श्रीमती पासवान ने बाबा साहब के चित्र पर माल्यार्पण कर उन की जीवनी के बारे में गाँव के लोग को जानकारी दी। ‘जय भीम’ के नारों के बीच हम (सेक्यूलर) की जमुई जिला प्रभारी अनामिका पासवान ने ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि वे स्वयं शिक्षित हों और अपने बच्चों को भी शिक्षित करें। अम्बेदकर साहब ने शिक्षा को ही सामाजिक समानता का अस्त्र बताया है। शिक्षा के महत्त्व को समझाती हुई श्रीमती पासवान ने कहा कि शिक्षा की बदौलत ही अम्बेदकर संविधान निर्माता बने।

बुधवार, 21 नवम्बर 2018

कॉपी, कलम, पेंसिल और इरेजर (रबर) को पाकर विद्यार्थियों के चेहरे खिले

जमुई। विश्व बाल दिवस और अपनी छोटी बेटी भाव्याश्री के जन्मदिन के अवसर को हम (से) की महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने दलितों के बीच बिताया। श्रीमती पासवान ने विद्यालय में पढ़ रहे गरीबों के बच्चों के बीच पठन सामग्रियों का निःशुल्क वितरण किया। कॉपी, कलम, पेंसिल और इरेजर (रबर) को पाकर विद्यार्थियों के चेहरे खिले नज़र आये। हम नेत्री ने इस अवसर पर कहा कि सभी सामर्थ्यवानों को चाहिए कि वे गरीबों की सेवा करें। अनामिका पासवान अपनी बेटी भाव्याश्री को गोद में लेकर कॉपी, कलम, पेंसिल आदि का वितरण करती रहीं। उन्होंने कहा कि आमजन की सेवा करने का कोई भी अवसर वह नहीं गँवातीं।


रविवार, 18 नवम्बर 2018

लछुआड़-राजपुरा में नल का जल व इन्दिरा आवास की समस्याओं के समाधान का प्रयास

जमुई। जिले के कई गाँव ऐसे हैं, जहाँ राज्य सरकार के ‘नल का जल’ योजना नहीं पहुँची है। सत्तारूढ़ दल के लोग केवल दावा कर रहे हैं, पर ज़मीनी हक़ीक़त कुछ और है। जनसमस्याओं से पीड़ित ऐसा ही गाँव है जमुई का लछुआड़ स्थित राजपुरा। यहाँ विकास की पूरी किरणें अब तक नहीं पहुँची हैं। नल का जल यहाँ के घरों में नहीं पहुँच रहा है। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) सेक्यूलर की प्रदेश महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष व प्रखर नेत्री अनामिका पासवान ने लछुआड़-राजपुरा जाकर जनसमस्याओं को निकट से देखने और स्थानीय जनता से बातचीत के दौरान उक्त बातें कहीं। उन्होंने कहा कि इस गाँव के लोग अत्यन्त गरीब हैं और कई सामाजिक समस्याओं से पीड़ित हैं। स्थानीय जनप्रतिनिधि और सरकारी अधिकारियों को इन ग्रामीणों की दिक्कतें नहीं दिखायी देतीं। पर, अब जनता बेवकूफ नहीं है, विकास का कार्य नहीं करनेवाले जनप्रतिनिधियों को अब पराजय का मुँह देखना पड़ेगा। श्रीमती अनामिका पासवान ने कहा कि गाँव में जरूरतमन्द लोग इन्दिरा आवास भी आवंटित नहीं हुए हैं। यहाँ पेयजल की भी समस्या बरकरार है। हम (सेक्यूलर) की वरिष्ठ नेत्री अनामिका पासवान ने ग्रामीणों को भरोसा दिलाया कि वह जल्द-से-जल्द अधिकारियों से वार्ता करेंगी और समस्याओं का समाधान करायेंगी।

मंगलवार, 13 नवम्बर 2018

दुष्कर्म पीड़िताओं को न्याय दिलाने की पहल, आरोपित गिरफ्तार, मुआवजे की माँग

जमुई। जिले के खैरा प्रखण्ड स्थित हरदीमोड़ मंझिटोला ग्राम में रहने वाली दो मासूम बच्चियों के साथ पिछले दिनों दो लड़कों ने मिलकर दुष्कर्म किया था। उस समय हम (सेक्यूलर) की बिहार प्रदेश महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष अनामिका पासवान जमुई में थी और सूचना मिलते ही पीड़िता के घर पहुँची। अनामिका ने परिजनों और बच्चियों से मिलकर न्याय दिलाने की बात कही। उन्होंने कहा कि गाँव के मुखिया और अन्य दबंग लोग पीड़ित परिवार पर सुलहनामा का दवाब बना रहे थे। ऐसे में श्रीमती पासवान ने जमुई डीएसपी और एसपी से दूरभाष पर बात कर पीड़िताओं और उन के परिवार को शीघ्र न्याय दिलाने और दुष्कर्मियों को गिरफ्तार करने की बात कही। पुलिस हरकत में आयी और उसी दिन दोनों आरोपितों भिण्डी मांझी और श्रवण पासवान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। श्रीमती पासवान ने पीड़ित परिवार और दोनों लड़कियों को मुआवजा दिलाने की माँग बिहार सरकार से की।

रविवार, 11 नवंबर 2018

व्रतियों को सहयोग कर आत्मिक खुशी, बाँटी पूजन सामग्री

पटना। आस्था और श्रद्धा को लोकपर्व छठ का चार दिवसीय अनुष्ठान 11 नवंबर को नहाय-खाय के साथ शुरू हुआ। इस दौरान हम (से) की प्रखर नेत्री श्रीमती अनामिका पासवान व्रतियों की सेवा में विशेष सक्रिय हैं। राजनीतिक रूप से जमुई में सक्रिय श्रीमती पासवान ने पटना के व्रतियों के बीच नहाय-खाय के शुभ अवसर पर पूजन सामग्री व फल का वितरण किया। पटना के गरीबों की बस्ती व झुग्गी-झोपड़ी में रहनेवाले निर्धन छठ व्रतियों के बीच जाकर अनामिका पासवान ने सूप और नारियल का वितरण किया। उन्होंने कहा कि छठ अत्यंत ही पवित्रता और सहयोग की भावना वाला व्रत है। छठ जैसा भाईचारा पूरे संसार में नहीं दिखता है। इस दौरान अमीर-से-अमीर लोग भी साफ-सफाई में जुटे नज़र आते हैं, जो हमारी संस्कृति की अमूल्य निधि है। व्रतियों को सहयोग कर मुझे आत्मिक खुशी हो रही है। व्रतियों से उन्होंने आशीर्वाद ग्रहण किया।

शनिवार, 10 नवम्बर 2018

व्रतियों के बीच छठ के पूजन सामग्रियों का वितरण

पटना। लोकपर्व छठ अत्सन्त ही पावन और निष्ठा का व्रत है। यह हमें स्वच्छता, पवित्रता और आपसी भाईचारे का सन्देश देता है। हमारी परम्परा रही है कि जो व्रती किसी कारणवश छठ नहीं कर पा रही है, तो उसे आर्थिक सहयोग कर उसे व्रत करने में सहयोग किया जाता है। इसी परम्परा को कायम रखकर राज्य व देश में अपनी नयी पहचान बनानेवाली पार्टी हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) आगे बढ़ रही है। छठ के अवसर पर स्थानीय पुनाईचक और कमला नेहरू नगर में जरूरतमन्द छठ व्रतियों को सूप व पूजा का सामान वितरित करती हुई हम की महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने उक्त बातें कही। इस दौरान अनामिका पासवान से पूजन सामग्री पाकर व्रतियों ने कहा कि अब उन्हें छठ व्रत करने में सहूलियत होगी।

शुक्रवार, 2 नवम्बर 2018

डॉ. श्रीकृष्ण सिंह जन्मोत्सव पखवारा व अम्बेदकर की प्रतिमा का अनावरण

नवादा। बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री बिहार केशरी डॉ. श्रीकृष्ण सिंह जन्मोत्सव पखवारा-सह-बाबा साहब की प्रतिमा का अनावरण समारोह में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व हम (सेक्यूलर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने शिरकत की। कार्यक्रम में हम की प्रदेश महिला मोर्चा अध्यक्ष अनामिका पासवान भी शामिल हुईं और अपने विचारों से लोग को अवगत कराया। श्रीमती पासवान ने कहा कि बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री डॉ. श्रीकृष्ण सिंह आधुनिक बिहार के निर्माता थे। इसी तरह बाबा साहब भीमराव अम्बेदकर ने हमें शासन की बारीकियाँ बतायी। आज के जनप्रतिनिधियों को इन दोनों महाविभूतियों से सीखने की जरूरत है। इन्होंने कहा कि हम (सेक्यूलर) भी बाबा साहब की तरह ही समाज में समानता लाने को कृत्संकल्पित है।

शनिवार, 27 अक्तूबर 2018

हम राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में रखी अपनी बात, लोकसभा निर्वाचन पर मंथन

नई दिल्ली। भारत की राजधानी नई दिल्ली के 15 जनपथ, अम्बेडकर भवन में हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की विशेष बैठक हुई। बैठक का नेतृत्व पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष-सह-बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने किया। इस दौरान हम के कई राष्ट्रीय व राज्य स्तर के नेताओं ने वर्तमान राजनीतिक स्थिति और पार्टी के जनाधार को मजबूत करने पर विचार मंथन किया। साथ ही 2019 के लोकसभा निर्वाचन और बिहार में महागठबन्धन में शामिल दलों के बीच सीटों के बँटवारे पर भी गंभीर चर्चा हुई। इस दौरान राष्ट्रीय कार्यकारिणी को सम्बोधित करते हुए बिहार प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान ने कहा कि वर्तमान समय राजनीतिक संक्रमण का दौर है। इस स्थिति ने निपटने के लिए आवश्यक है कि हम (सेक्यूलर) की धर्मनिरपेक्ष विचारधारा को आमजन के बीच प्रचारित-प्रसारित करें। साथ ही हमें राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी जी की सब को साथ लेकर चलने की नीति से भी जनता को वाकिफ़ कराना होगा। अनामिका पासवान ने कहा कि देशभर में हम के संगठन को मजबूती प्रदान करना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि पार्टी का जितना प्रसार बिहार में हो रहा है, वैसा ही प्रसार अन्य राज्यों में भी करने की ज़रूरत है।

मंगलवार, 16 अक्तूबर 2018

यादों के झरोखे से राजनीति की सक्रियता

पटना। मैं बचपन से ही राजनीति करती आयी हूँ। समाज सेवा ही करना मेरा कर्म और धर्म है। मैं जब 10 साल की थी, तब से अपने पिताजी के साथ राजनीतिक मंच पर रही हूँ और राजनीति में अपनी सक्रिय भूमिका निभाती रही हूँ। राजनीति, समाज सेवा और सामूहिक कार्यक्रमों में मैं अपनी भूमिका बचपन से ही निभाती आ रही हूँ। मैं अपना जीवन समाज के लिए समर्पित की हूँ। ऐसा नहीं है कि मुझे राजनीति की चेतना अभी आयी है। मुझे तो इस समाज के लिए कुछ कर गुजरने की तमन्ना 10 साल की उम्र से ही है जो अब और प्रबल हो गयी है। मुझे बचपन से ही ऐसा शौक था कि मैं पढ़-लिखकर बड़ी होकर एक अच्छा एडवोकेट बनूँगी और फिर मैं लीडरशिप में आऊँगी। समाज को अपनी स्वच्छ छवि के आधार पर कुशल नेतृत्व प्रदान करने की मेरी आशा को आमजन अवश्य पूरा करेंगे। जनता ही लोकतन्त्र में निर्णायक है और मुझे अपने क्षेत्र की जनता पर पूरा विश्वास है कि वो मुझे जनप्रतिनिधित्व का भार अवश्य सौंपेगी। जो सिर्फ सत्ता के लोभ में राजनीति करता है, मेरी नज़र में वह नेता नही है। वरिष्ठ राजनीतिज्ञों के आशीर्वाद और हर तबके के लोग से मिले प्यार की बदौलत अब मैं राजनीति की उस मंज़िल तक पहुँच चुकी हूँ कि समाज और जनता के बीच जाकर, उन का हर कार्य और उन की हर समस्या का निबटारा कर सकूँ। मैं आप सब से निवेदन करती हूँ कि राजनीति में अपना सक्रिय योगदान दें और बेहतर छविवाले को ही विधानसभा या लोकसभा में अपना प्रतिनिधि चुनकर भेजें। अपने संकलन से मैं राजनीति की अपनी सक्रियता से आप को वाकिफ़ कराने के लिए करीब 25 साल पुरानी यह तस्वीर आप लोग के समक्ष समर्पित कर रही हूँ। इस तस्वीर में बाबा चौहरमल महोत्सव के दौरान मंच से मैं अपनी बातों को उपस्थित जनसमूह के बीच रख रही हूँ।

शुक्रवार, 12 अक्तूबर 2018

जमुई की समस्याओं से जीतनराम मांझी को अवगत कराया

पटना। हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) की महिला मोर्चा अध्यक्ष अनामिका पासवान ने जमुई जिले की समस्याओं से पूर्व मुख्यमन्त्री व हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी को अवगत कराया। अनामिका पासवान ने जीतनराम मांझी को एक लिखित आवेदन देकर समस्याओं के जल्द समाधान करवाने का अनुरोध किया। पटना में श्री मांझी के सरकारी आवास पर अनामिका पासवान ने जमुई की विविध जनससमयाओं पर उन से चर्चा भी की।

शुक्रवार, 5 अक्तूबर 2018

जुड़न मांझी को शीघ्र बरामद करने के लिए प्रदर्शन

जमुई के शाहजहाँपुर गाँव के गोली देवी के पति जुड़न मांझी का अपहरण 10 सितम्बर 2018 को कर लिया गया था। 17 दिन बीत जाने के बाद भी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। इस की सूचना पाकर हम की महिला मोर्चा अध्यक्ष-सह-जमुई जिला प्रभारी अनामिका पासवान महिलाओं के साथ पीड़ित परिजन के घर पहुँची और उन्हें सान्त्वना देते हुए अपना और पार्टी के पूर्ण सहयोग की बात कही। उन्होंने प्रशासन से जुड़न मांझी को शीघ्र बरामद करने की अपील की। इस मामले को लेकर अनामिका पासवान के नेतृत्व में प्रदर्शन किया गया और जुड़न मांझी को सकुशल बरामद करने का दबाव प्रशासन पर बनाया गया। प्रदर्शन स्थल पर थाना प्रभारी, बीडियो और एसडीओ भी पहुँचे और उन्होंने आश्वासन दिया कि जल्द-से-जल्द अपराधियों को गिरफ्तार कर जुड़न मांझी को बरामद कर लिया जायेगा।

शुक्रवार, 5 अक्तूबर 2018

पंचायत व बूथ स्तर तक कार्यकर्ताओं की समिति का गठन जल्द

जमुई। स्थानीय मयूर विहार हॉल में हिन्दुस्तान अवामी मोर्चा (से) का कार्यकर्ता सम्मेलन सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। इस में स्थानीय कार्यकर्ताओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। हम की प्रदेश महिला मोर्चा अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पासवान व जमुई के सह जिला प्रभारी रौशन पासवान मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। इन दोनों को पगड़ी पहनाकर तुलसी देवी ने सम्मानित किया। कार्यक्रम को सम्बोधित करती हुई अनामिका पासवान ने कहा कि बूथ समिति पर कार्य चल रहा है, जल्द ही यह कार्य पूरा कर लिया जायेगा। राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी का यह भी निर्देश है कि पंचायत एवं बूथ स्तर तक कार्यकर्ताओं की समिति का गठन जल्द किया जाय। पंचायत और बूथ स्तर तक समिति गठन के बाद जीतन राम मांझी का भव्य कार्यक्रम होगा। अब जमुई में हर जगह हम की उपस्थिति दिखायी दे रही है। अनामिका पासवान ने कहा- जमुई में जिस तरह से अपराधियों का मनोबल बढ़ता जा रहा है और पुलिस और सरकार मौन बैठी हुई है, यह बहुत निन्दनीय है। बढ़ते अपराध पर लगाम नहीं लगायी जा रही है। इस के खिलाफ पार्टी सड़क पर उतरेगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष जयशेखर मांझी व मंच संचालन जिला उपाध्यक्ष तुलसी देवी ने किया। कार्यक्रम में सभी प्रखंडों के प्रखंड अध्यक्ष एवं पंचायत अध्यक्ष उपस्थित हुए। इस दौरान प्रशान्त कुमार, रानी देवी, रेखा कुमारी, नीलू देवी, शिवटहल मांझी, टोनी आलम, गौतम कुमार, राज यादव, आनन्द साव और काँग्रेस के धर्मेन्द्र पासवान, श्रीनिवास, गाजी सहनवाज उपस्थित हुए।

बृहस्पतिवार, 27 सितम्बर 2018

सार्थक प्रयास से अपह्त धीरज कुमार बरामद

सिकन्दरा के तुल्लाडीह गाँव से बालक धीरज कुमार उर्फ आदर्श कुमार का अपहरण हो गया। इस की सूचना मिलते ही हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (से) की महिला मोर्चा अध्यक्ष अनामिका पासवान अपहृत के घर पहुँची। वहाँ परिजनों को ढांढस बंधाया और पार्टी के पूर्ण सहयोग की बात कही। इस के बाद अनामिका आरक्षी अधीक्षक के बात कर अपह्त धीरज के शीघ्र बरामदगी की अपील की। साथ ही हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने भी आरक्षी अधीक्षक को निर्देश दिया कि धीरज को बरामद करने के लिए पुलिस की कार्रवाई तेज करें। ऐसे प्रयास का नतीजा सामने आया कि 30 सितम्बर 2018 को धीरज उर्फ आदर्श को सकुशल बरामद कर लिया गया। परिजनों ने इस मामले को लेकर अनामिका पासवान व हम के प्रति आभार व्यक्त किया।

अनामिका पासवान के बारे में जानिये

नमस्कार! लोकतन्त्र इण्डिया (https://www.loktantraindia.in) के माध्यम से मैं अनामिका पासवान जमुई की बेटी, आप सब के बीच हूँ और अपनी हर बात से आप को अवगत करा रही हूँ और कराती रहूँगी। स्वच्छ और स्वस्थ लोकतन्त्र के लिए आवश्यक है कि आप अच्छे लोग को चुनें और उन्हें अपने क्षेत्रीय विकास के लिए जनप्रतिनिधि बनायें। मैं आप के साथ हर समस्या में सहभागी हूँ। आप की प्रत्येक कठिनाई को खत्म करने के लिए पूरी ताकत से कार्य कर रही हूँ। हमें इस लिंक पर भी देखें-- https://www.youtube.com/watch?v=pdcd8330a0U&t=5s